पर्यटन राज्‍य मंत्री अजय भट्ट ने कोहिमा में अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट के दूसरे दिन के आरंभिक सत्र को संबोधित किया

देश-विदेश

पर्यटन एवं रक्षा राज्‍य मंत्री श्री अजय भट्ट ने आज नगालैंड के कोहिमा में पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के नौंवे अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट के दूसरे दिन के आरंभिक सत्र को संबोधित किया। इस अवसर पर विधायक एवं नगालैंड सरकार के पर्यटन सलाहकार श्री एच खेहोवी येपुथोमी, पर्यटन सचिव, भारत सरकार, श्री अरविंद सिंह, अतिरिक्‍त  महानिदेशक, पर्यटन, भारत सरकार श्रीमती रुपिंदर बराड़ तथा केंद्र सरकार और पूर्वोत्‍तर राज्‍य सरकारों के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

कोहिमा में नौंवे अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटन मार्ट के दूसरे दिन अपने संबोधन में श्री अजय भट्ट ने कहा कि पूर्वोत्‍तर क्षेत्र पर्यटन की दृष्टि से विविध आकर्षणों से संपन्‍न है और प्रत्‍येक राज्‍य की अपनी विशिष्‍ट विशेषताएं हैं। ये आकर्षण समूचे क्षेत्र में फैले हुए हैं और मोटे तौर पर अत्‍यंत नाजुक पर्यावरण से युक्‍त दूर-दराज के इलाकों में स्थित हैं। ये आकर्षण और क्षेत्र की जनता पर्यटन के समृद्ध संसाधनों का सृजन करते हैं। श्री भट्ट ने कहा कि पूर्वोत्‍तर में साहसिक और पारिस्‍थतिक पर्यटन की अपार संभावनाएं मौजूद हैं।

मार्ट के दूसरे दिन नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, सिक्किम और त्रिपुरा के राज्‍य पर्यटन विभागों ने अपनी पर्यटन संभावनाओं और उत्‍पादों के बारे में प्रस्‍तुति पेश की। पर्यटन और पर्यटन के विशिष्‍ट उत्पादों से जुड़े कई पहलुओं पर चर्चाओं के आरंभ होने के बाद विशेषज्ञों ने राफ्टिंग, ट्रैकिंग और सड़क अभियानों, पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में मेलों और उत्‍सवों की संभावनाओं तथा पूर्वोत्‍तर में फूड एंड वाइन टूरिज्‍म की संभावनाओं पर प्रकाश डाला।

इस आयोजन का उद्देश्‍य घरेलू और अंतर्राष्‍ट्रीय बाजारों में इस क्षेत्र की पर्यटन संभावनाओं को विशिष्‍ट रूप से दर्शाना है। इस अवसर पर नगालैंड पर कॉफी टेबल बुक भी जारी की गई। इस आयोजन में सरकारी अधिकारियों, उद्योग हितधारकों और स्थानीय प्रतिभागियों सहित 300 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया।इस आयोजन में अन्य गणमान्य व्यक्तियों और राजनयिकों के साथ–साथ ब्रुनेई दारुस्सलाम के उच्चायुक्त, मलेशिया के उच्चायुक्त, म्यांमार के एम्बेसडर एक्स्ट्राऑर्डिनरी, वियतनाम के राजदूतउपस्थित थे। मार्ट में भाग लेने वाले मंत्रालयों/सरकारी निकायों के अन्य उच्च पदा‍धिकारी भी इस आयोजन का हिस्सा रहेंगे। प्रधानमंत्री के ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ दृष्टिकोण के अनुरूपएक अध्‍ययन दौरे के भाग के तहत देश भर से आए विद्यार्थी स्थानीय विद्यार्थियों के साथ बातचीत करेंगे और क्षेत्र की समृद्ध विरासत और संस्कृति को समझेंगे।

इस मार्ट की योजना और कार्यक्रम का निर्धारण क्रेताओं, विक्रेताओं, मीडिया, सरकारी एजेंसियों और अन्‍य हितधारकों के बीच संवाद सुगम बनाने के लिए किया गया है। देश के विभिन्‍न क्षेत्रों से लगभग 50 क्रेताओं ने इस मार्ट में भाग लिया और पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के लगभग 75 प्रतिशत विक्रेताओं के साथ प्रत्‍यक्ष रूप से बैठकें कीं। यह बैठकें क्षेत्र के पर्यटन उत्‍पादों के आपूर्तिकर्ताओं को घरेलू क्रेताओं के साथ संपर्क बनाने, पर्यटन को बढ़ावा देने में समर्थ बनाएंगी। घरेलू क्रेता, पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के अन्‍य विक्रेताओं के साथ भी कारोबारी बैठकें करेंगे।

प्रतिभागियों के अनुभव को और समृद्ध करने के लिएमंत्रालय ने किसामा हेरिटेज विलेज, किसामा वॉर म्यूजियम और मोरंग्स, खोनोमा विलेज और कोहिमा स्थित द्वितीय विश्व युद्ध के कब्रिस्तान का दौरा आयोजित किया है। आगंतुक प्रतिनिधिमंडल को नगालैंड के स्थानीय समुदाय, स्थानीय कला और संस्कृति तथा समृद्ध विरासत से परिचित कराया जाएगा।

अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट का आयोजन पूर्वोत्‍तर राज्यों में बारी-बारी किया जाता है। नगालैंड इस मार्ट की मेजबानी पहली बार कर रहा है। इस मार्ट के पिछले संस्करण गुवाहाटी (असम), तवांग (अरुणाचल प्रदेश), शिलांग (मेघालय), गंगटोक (सिक्किम), अगरतला (त्रिपुरा), और इंफाल (मणिपुर) में आयोजित किए जा चुके हैं।

Related posts

केंद्रीय इस्पात मंत्री ने सीपीएसई के लंबित पर्यावरण और वन मंजूरी के मुद्दों की समीक्षा की

बर्लिन में प्रधानमंत्री द्वारा पूर्व लिखित प्रेस वक्तव्य

डॉ. जितेन्द्र सिंह ने लोक शिकायत पोर्टल पर शिकायत समाधान में शानदार प्रदर्शन करने वाले मंत्रालयों को प्रमाण-पत्र दिया