कोरोना को मात दे चुके मिल्खा सिंह की बिगड़ी तबीयत, ICU वार्ड में किया गया एडमिट

Image default
खेल समाचार

चंडीगढ़: ‘फ्लाइंग सिख‘ के नाम से मशहूर पूर्व धावक मिल्खा सिंह की अचानक तबीयत बिगड़ने से उन्हें अस्पताल भर्ती कराना पड़ा है। बताया जा रहा है कि गुरुवार देर रात मिल्खा सिंह के शरीर में ऑक्सीजन का स्तर काफी नीचे आ गया था जिसकी वजह से उन्हें आनन-फानन में पीजीआईएमईआर के कोविड अस्पताल के आईसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया है। बता दें कि हाल ही में पूर्व भारतीय धावक मिल्खा सिंह कोरोना वायरस को मात देकर घर लौटे थे, लेकिन उनकी सेहत में सुधार नहीं हो रहा था।

91 वर्षीय मिल्खा सिंह को कोविड अस्पताल में भर्ती कराए जाने की जानकारी चंडीगढ़ के पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन ऐंड रिसर्च के स्पोक्सपर्सन प्रोफेसर अशोक कुमार ने दी है। उन्होंने बताया कि मिल्खा सिंह का ऑक्सीजन लेवल काफी गिर गया था जिसके बाद उन्हें आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। फिलहाल उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। मिल्खा सिंह 20 मई को कोविड पॉजिटिव पाए गए थे, वह अपने चंडीगढ़ स्थित घर पर ही क्वारंटीन रहे। 1 जून को उन्होंने कोरोना वायरस को मात दे दिया था।

Former Indian sprinter Milkha Singh admitted in ICU in Covid Hospital of PGIMER today due to dipping levels of oxygen. He has been kept under observation & is stable now: Prof Ashok Kumar, Official Spokesperson, Post Graduate Institute of Medical Education & Research, Chandigarh pic.twitter.com/GC2tIgQrQr

‘भाग मिल्खा भाग’ की रिलीज के छह साल पूरे होने पर फरहान अख्तर का आया इमोशनल ट्वीट

आपको बता दें कि मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल कौर भी कोरोना वायरस से जिंदगी की जंग लड़ रही हैं, उनकी सेहत में सुधार नहीं हो रहा है। चार दिन पहले उनकी हालत खराब होने की वजह से उन्हें भी नॉर्मल वार्ड से आइसीयू वार्ड में शिफ्ट किया गया था। डॉक्टरों ने बताया कि तमाम कोशिशों के बावजूद उनके शरीर में ऑक्सीजन लेवल समान्य नहीं हो रहा है। सीनियर डॉक्टरों की टीम उनकी सेहत पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। मालूम हो कि मिल्‍खा सिंह देश के पहले एथलीट थे, जिन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स में पहली बार गोल्ड मेडल जीतकर भारत का नाम ऊंचा किया था। source: oneindia.com

Related posts

टेनिस : इटली ओपन के अगले दौर में जोकोविक से भिड़ेंगे निकोलोज

स्‍कूलों में खेलों को अनिवार्य विषय बनाया जाए और इनके नंबर दिए जाएं: खेल मंत्री विजय गोयल

होम सीजन के लिए बांग्लादेश ने किया 32 खिलाड़ियों का चयन