खादी के मास्क की लोकप्रियता बढ़ी; केवीआईसी को रेड क्रॉस सोसाइटी से 10.5 लाख फेस मास्कके लिए अबतक का सबसे बड़ा ऑर्डर मिला

Image default
देश-विदेश व्यापार

खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) को फेस मास्क की आपूर्ति के लिए भारतीय रेडक्रास सोसाइटी (आईआरसीएस) की ओर से दूसरी बार और अबतक का सबसे बड़ा ऑर्डर मिला है। इस ऑर्डर के तहत केवाईसी को 3.30 करोड़ रुपये के उच्च गुणवत्ता वाले 10.5 लाख मास्क की आपूर्ति करनी है।केवीआईसी को भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी की ओर से एक महीने से भी कम समय में दूसरी बार यह ऑर्डर मिला है। इससे पहले केवीआईसी को रेड क्रास सोसाइटी से 1.80 लाख फेस मास्क का ऑर्डर मिला था जिसमें से अबतक 1.60 फेस मास्क की आपूर्ति की जा चुकी है।

मास्क की खरीद के लिए 3.30 करोड़ रुपये का यह नया ऑर्डर केवीआईसी को हाल ही में मिला है। मास्क की आपूर्ति इस सप्ताह से शुरू हो जाएगी। केवीआईसी पहले मिले ऑर्डर की आपूर्ति एक दो दिन में पूरी कर देगा। नए ऑर्डर के तहत जिन मास्क की आपूर्ति की जानी है वह पिछले ऑर्डर वाले मास्क की तरह के ही होंगे। केवीआईसी को नया ऑर्डर पिछला ऑर्डर समय पर और मानकों के अनुरुप किए जाने की वजह से ही मिला है।

केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री श्री नितिन गडकरी ने मास्क बनाने की गतिविधियों के माध्यम से से देश में स्थायी रोजगार बनाने में केवीआईसी के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां फेस मास्क   कोरोना बीमारी से बचाव के खिलाफ सबसे प्रभावी सुरक्षात्मक चीज बन गया है वहीं दूसरी ओर इसके उत्पादन ने कारीगरों के लिए बड़े पैमाने पर रोजगार का सृजन किया है।

केवीआईसी को मिले नये ऑर्डर से स्थानीय स्तर पर उत्पादन गतिविधियों को काफी प्रोत्साहन मिलेगा क्योंकि इससे खादी के कारीगरों के लिए लगभग 50,000 अतिरिक्त कार्य दिवस के अवसर बनेंगे। इस आदेश के क्रियान्वयन के लिए 1 लाख मीटर से अधिक के हस्तनिर्मित सूती खादी कपड़े की आवश्यकता होगी जिसकी आपूर्ति विभिन्न राज्यों के खादी संस्थानों द्वारा की जाएगी। यह कताई और बुनाई गतिविधियों को भी बढ़ावा देगा और इस तरह यह कारीगरों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करेगा।

केवीआईसी के अध्यक्ष श्री विनय कुमार सक्सेना ने आईआरसीएस से मिले नए ऑर्डर का स्वागत करते हुए कहा “चरखा आर्थिक स्वतंत्रता का माध्यम है। इस कठिन समय में इस तरह के बड़े ऑर्डर यह सुनिश्चित करेंगे कि कताई और बुनाई की गतिविधियाँ जारी रहें और हमारे खादी कारीगरों के लिए आय का स्रोत बना रहे।”

केवीआईसी को फेस मास्क की आपूर्ति के लिए मिला यह अबतक का सबसे बड़ा ऑर्डर है। इससे पहले लाक डाउन के दौरान जम्मू कश्मीर प्रशासन ने केवीआईसी से 7 लाख मास्क खरीदे थे। केवीआईसी को राष्ट्रपति भवन, प्रधान मंत्री कार्यालय, केंद्र सरकार के मंत्रालयों और आम जनता की ओर से अपने ई-पोर्टल पर भी मास्क खरीद के लिए बार-बार ऑर्डर मिलते रहे हैं।

आईआरसीएस की ओर से जिन मास्क की आपूर्ति के लिए ऑर्डर दिए गए हैं वह मास्क लाल पाइपिंग के साथ भूरे रंग में 100 प्रतिशत डबल-ट्विस्टेड दस्तकारी सूती कपड़े से बनाए जाने हैं। केवीआईसी ने विशेष रूप से इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी के लिए इन दोहरे स्तर के सूती फेस मास्क का डिजाइन बनाया है।  आईआरसीएस की ओर से नमूने के तौर पर जो मास्क केवीआईसी को दिए गए हैं उनमें बाईं ओर आईआरसीएस का प्रतीक चिन्ह और दाईं ओर खादी इंडिया का टैग बना हुआ है। खादी के अन्य फेस मास्क की तरह ही यह मास्क भी धोकर फिर से इस्तेमाल किए जा सकते हैं साथ ही यह त्वचा के अनुकूल और जैविक रूप से नष्ट किए जा सकने वाले भी हैं।

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/redcross-mask1YPYX.JPG

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/redcross-mask2ZTS3.JPG

Related posts

102 की मौत, डॉक्टरों की टीम के साथ मोदी केरल रवाना

Whats App ला रहा एक नया फीचर, ये होगी खासियत..

सशस्‍त्र बल झंडा दिवस की पूर्व संध्‍या पर राष्‍ट्रपति का संदेश