पायलटों की कमी के चलते देशभर में देरी से उड़ीं इंडिगो की फ्लाइट्स, डीजीसीए ने लिया संज्ञान और एयरलाइंस से मांगा जवाब

देश-विदेश

देश (India)के कई शहरों में इंडिगो एयरलाइंस की यात्रियों के लिए शनिवार का दिन परेशानी भरा रहा है. इंडिगाे एयरलाइंस (Indigo Airlines) से जिन लोगों ने यात्रा की योजना बनाई थी, उनके लिए शनिवार का दिन मुश्किलों भरा रहा.

असल में पायलटों की कमी के चलते शनिवार को देशभर में इंडिगो की फ्लाइट्स देरी से उड़ी. इस वजह से इंडिगो एयरलाइंस के यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. वहीं अब इस मामले में इंडिगो एयरलाइंस की मुश्किलें भी बढ़ गई हैं. इस मामले का नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने संज्ञान लिया है. जिसके तहत डीजीसीए ने इंडिगो से देश भर में उड़ान में हुए देरी के पीछे का कारण जानने के लिए स्पष्टीकरण मांगा है.

प्रतिदिन 1600 से अधिक फ्लाइट्स संचालित करता है इंडिगो

इंडिगो देश की प्रमुख एयरलाइंस कंपनी है. जिसके भारत में बेहतर घरेलू नेटवर्क है. एक आंकड़ें के अनुसार इंडिगो देश के अंदर प्रतिदिन 1600 से अधिक फ्लाइट्स संचालित करता है. जिसमें बड़ी संख्या में लोग सफर करते हैं. असल में इंडिगो की पहचान देश के अंदर बजट एयरलाइंस के तौर पर है. जिसमें सभी तरह के यात्री सफर करना पंसद करते हैं. कुल मिलाकर इंडिगो को एयरलाइंस की दुनिया की लाइफ लाइन के तौर पर समझा जाता है, लेकिन शनिवार को कई फ्लाइट्स की उड़ान में हुई देरी की वजह से इंडिगो के यात्रियों को कई तरह की परेशानियों का सामाना करना पड़ा है.

50 फीसदी से अधिक फ्लाइट्स की उड़ान में देरी की सूची

फ्लाइट्स की उड़ान में देरी को लेकर अभी तक डीजीसीए की तरफ से ही बयान आया है. जिसमें डीजीसीए अधिकारी ने सामाचार एजेंसी एएनआई से बाचतीत करते हुए जानकारी दी है, लेकिन इस मामले को लेकर अभी तक एयरलाइंस कंपनी की तरफ से कोई भी जवाब सामने नहीं आया है. वहीं कई मीडिया रिपोर्टस में दावा किया गया है कि पायलटों की कमी की वजह से इंडिगो की 50 फीसदी से अधिक फ्लाइट्स की उड़ान प्रभावित हुई है. एक अन्य मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रविवार को इंडिगो की 900 से अधिक फ्लाइट्स प्रभावित हुई हैं.

एयरइंडिया के भर्ती अभियान में शामिल होने चले गए पायलट

इंडिगो की फ्लाइट्स में हुई देरी को लेकरकेंद्रीय उड्डयन मंत्रालय ने भी जानकारी साझा की है. जिसके तहत शनिवार को इंडिगो की केवल 45 फीसदी उड़ानें समय पर संचालित हो पाईं. वहींं समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, बड़ी संख्या में चालक दल के सदस्यों ने बीमार छुट्टी ली थी. जो एयर इंडिया के भर्ती अभियान में शामिल होने चले गए थे. इस वजह से इंडिगो की फ्लाइट्स पायलटों की कमी की वजह से देरी से उड़ी. असल में एयर इंडिया के भर्ती अभियान का दूसरा चरण शनिवार को आयोजित किया गया था.

सोर्स: यह tv9 bharatvarsh न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ श्रमजीवी जर्नलिस्ट टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Related posts

प्रधानमंत्री ने गोवा के स्वास्थ्यकर्मियों और कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के लाभार्थियों के साथ बातचीत की

पर्यटन पर्व के 13वें दिन का समारोह

एनएचएआई राष्ट्रीय राजमार्गों के किनारे 600 से ज्यादा यात्री सुविधाओं का विकास करेगा