भारत ने वेस्टइंडीज को नौ विकेट से हराकर सीरीज पर 3-1 से कब्ज़ा किया

Image default
खेल समाचार

भारत ने तिरुवनंतपुरम में आज गुरूवार को खेले गए पांचवें और अंतिम एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में वेस्टइंडीज को नौ विकेट से हराकर पांच मैचों की सीरीज पर 3-1 से कब्ज़ा कर लिया। भारत ने 105 रन का लक्ष्य 14.5 ओवर में एक विकेट गंवाकर हासिल कर लिया।

बता दें कि सीरीज का दूसरा मैच टाई रहा था जबकि तीसरे मैच में विंडीज को जीत मिली थी। भारतीय टीम ने 211 गेंदें बाकी रहते मैच जीता। वनडे में सर्वाधिक गेंदें बाकी रहते मैच जीतने की बात करें, तो टीम इंडिया की यह दूसरी बड़ी जीत है. इससे पहले उसने 2001 में केन्या को ब्लोमफोंटेन में 231 गेंदें शेष रहते मात दी थी।

वेस्टइंडीज 104 रनों पर लड़खड़ा गयी:

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज की टीम 31.5 ओवरों 104 रनों पर ही लड़खड़ा गई और टीम इंडिया को जीत के लिए 105 रनों का लक्ष्य दिया। बता दें कि वेस्टइंडीज के सिर्फ 3 ही बल्लेबाज दोहरे अंकों तक पहुंच पाए हैं। इंडीज टीम के लिए कप्तान जेसन होल्डर ने सबसे ज्यादा 25 रन बनाए। उनके अलावा मार्लोन सैमुअल्स 24 रन और रोवमैन पॉवेल 16 रन ही बना पाए। यह वेस्टइंडीज का भारत के खिलाफ वनडे में सबसे कम स्कोर है। इससे पहले उसका भारत के खिलाफ सबसे कम स्कोर 121 था जो उसने 27 अप्रैल 1997 को पोर्ट ऑफ स्पेन में बनाया था। भारतीय गेंदबाजों खासकर रवींद्र जडेजा के आगे विंडीज के बल्लेबाज कुछ भी नहीं कर पाए।

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा चमके:

भारत के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने 55 गेंदों में पांच चौके और चार छक्कों की मदद से नाबाद 63 रन बनाए। विराट कोहली ने भी अपना दम दिखते हुए नाबाद 33 रनों का पारी खेली। शिखर धवन (6) के रूप में भारत ने अपना एकमात्र विकेट खोया। 105 रनों के लक्ष्य हासिल करने के लिए रोहित शर्मा ओर शिखर धवन ने भारतीय पारी की शुरुआत की। धवन (6) ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और ओशाने थॉमस के शिकार हुए।

Related posts

कोहली ने कहा-‘सीरीज की सबसे बड़ी उपलब्धि हैं पंड्या’

सीरीज से पहले श्रीलंका टीम को लगा बड़ा झटका, कप्तान चांडीमल पहले टेस्ट से बाहर

यह विश्व कप मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा टूर्नामेंट: विराट कोहली