आईआईटीएफ, 2021 में आयकर विभाग का करदाताओं के लिए लाउंज स्थापित

देश-विदेश व्यापार

आयकर विभाग द्वारा करदाताओं को दी जाने वाली विभिन्न सेवाओं के बारे में जागरूकता बढ़ाने और विभिन्न आयकर नियमों तथा प्रक्रियाओं के अनुपालन की सुविधा प्रदान करने के लिए 14 से 27 नवंबर, 2021 तक नई दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला, 2021 में आयकर विभाग द्वारा एक करदाता लाउंज की स्थापना की गई है।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के अध्यक्ष श्री जे.बी. महापात्रा ने नई दिल्ली में आज यानी 14.11.2021 को केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के सदस्यों, आयकर (प्रशासन और करदाता सेवाएं) के प्रधान महानिदेशक, प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त (सीसीए), नई दिल्ली और आयकर विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में प्रगति मैदान के हॉल नंबर 12 पर करदाताओं के लाउंज का उद्घाटन किया।

    करदाताओं का यह लाउंज आयकर विभाग और करदाताओं के बीच विश्वास के माहौल को बढ़ावा देने के साथ-साथ उन्हें हाल के दिनों में विभाग द्वारा की गई पहलों के बारे में जानकारी देने का एक प्रयास है। इस उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए, करदाताओं के लाउंज में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया है, जैसे:

  1. पैन / ई-पैन, आधार-पैन लिंकिंग और पैन संबंधी प्रश्नों के लिए आवेदन में सहायता।
  2. ई-फाइलिंग और फॉर्म 26एएस (टैक्स-क्रेडिट) से संबंधित सवालों में सहायता।
  3. विभिन्न विषयों पर करदाता सूचना श्रृंखला ब्रोशर उपलब्ध कराना, जो ई-फॉर्मेट और पेपर फॉर्मेट दोनों में उपलब्ध है।
  4. युवा आयु वर्ग के आगंतुकों को आयकर का भुगतान करने के महत्व को आकर्षक तरीके से बताने के लिए वर्चुअल रियलिटी गेम और वीडियो कार गेम द्वारा संदेश।
  5. व्यापार मेले में आने वाले मौजूदा और भावी करदाताओं के लिए कराधान और राष्ट्र निर्माण के विषयों पर नुक्कड़ नाटक, क्विज शो, मैजिक शो, प्रत्यक्ष कार्टून निर्माण और बच्चों के लिए ड्राइंग / पेंटिंग प्रतियोगिता आदि।

      इस लाउंज का उपयोग उन समस्याओं के बारे में फीडबैक प्राप्त करने के लिए भी किया जाएगा जिनसे करदाताओं का सामना होता है। इसलिए, लाउंज न केवल एक केंद्रित पहुंच कार्यक्रम है, बल्कि विभाग के सेवा-उन्मुख दृष्टिकोण को प्रदर्शित करने के लिए एक मंच भी है।  करदाताओं के लाउंज में बातचीत के दौरान सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा।

Related posts

पूरा विश्व जलवायु परिवर्तन के कुप्रभावों से जूझ रहा है: श्री राधा मोहन सिंह

सफेद पानी में राफ्टिंग अभियान ‘रूद्रशिला’ को जैसलमेर से झंडी दिखाकर रवाना किया गया

ईपीएफओ के कर्मचारियों ने पीएम केयर्स फंड में ढाई करोड़ रुपये का योगदान दिया