एक्शन में उत्तराखण्ड पुलिस, 15 दिन में प्रेशर हॉर्न, मॉडिफाईड साइलेंसर और बाईक स्टंट करने वालों 3104 वाहनों का चालान व 174 वाहन सीज

Image default
उत्तराखंड

देहरादून: लोगों की जान को ताक पर रख कर बाईक स्टंट करने वाले, तेज होर्न और प्रेशर हॉर्न से ध्वनि प्रदूषण के साथ-साथ आम जनता को परेशान करने वालों एवं मॉडिफाईड साइलेंसर का गाड़ी में प्रयोग कर शोर-शराबा करने वालों के विरूद्ध उत्तराखण्ड पुलिस ने बड़ी कार्यवाही की है। श्री अशोक कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड के निर्देशन में पूरे प्रदेश में दिनांक 25 जून, 2018 से 09 जुलाई, 2018 तक 15 दिवसीय विशेष अभियान चलाया गया।

अभियान के अन्तर्गत प्रेशर हॉर्न का प्रयोग करने वाले 2281 वाहनों का चालान एवं 104 वाहनों को सीज किया गया। मॉडिफाईड साइलेंसर के प्रयोग करने वाले 704 वाहनों का चालान एवं 42 वाहनों को सीज किया गया। स्टंट बाईक करने वाले 119 दुपहिया वाहनों का चालान एवं 28 वाहनों को सीज किया गया। कुल मिलाकर 15 दिवसीय इस अभियान में 3104 वाहनों का चालन किया गया है और 174 वाहनों को सीज किया गया है।

श्री अशोक कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड ने बताया की भविष्य में इस प्रकार के अभियान जारी रहेंगे। इसलिए यदि आपके वाहनों में मॉडिफाईड  साईलेन्सर या प्रेशर हॉर्न जैसी कोई चीज लगी है तो इसे हटा लें।

Related posts

धाद संस्था द्वारा हरेला पर्व के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर मुख्यमंत्री

संयुक्त राज्य अमेरिका के राजदूत रिचर्ड वर्मा से बीजापुर अतिथिगृह में भेट करते हुएः कैबिनेट मंत्री दिनेश अग्रवाल

उत्तराखंड: ‘जड़ों’ से दूर 44.57 लाख ने बनाया नया ठौर