अनुसूचित जनजाति की छात्राओं हेतु निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों के लिये अनुदान।

उत्तर प्रदेश
लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने अनुसूचित जनजाति की कक्षा 09 व 10 में अध्ययनरत छात्राओं के लिए बुक बैंक योजनान्तर्गत निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों हेतु अनुदान के लिए वर्तमान वित्तीय वर्ष में पाॅच लाख रूपये का प्राविधान किया है। योजनान्तर्गत प्राविधानित धनराशि के सापेक्ष 50 प्रतिशत कुल 2.50 लाख रूपये की धनराशि स्वीकृत कर दी गयी हैं।

निदेशक, समाज कल्याण श्री जी राम ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अनुसूचित जनजाति की छात्राओं की वास्तविक संख्या के आधार पर जनपदवार धनराशि आवंटित कर दी गयी है। स्वीकृत धनराशि का व्यय पात्र छात्राओं को पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराने में किया जायेगा।
ज्ञातन्य है कि प्रदेश की अनुसूचित जनजाति की छात्राओं को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराने के लिए बुक बैंक योजना का प्रारम्भ वित्तीय वर्ष 2004-2005 किया गया था।

Related posts

सतीश महाना ने रामनगर औद्योगिक एसोसिएशन, वाराणसी सेे ऑनलाइन किया संवाद

कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु लोग राम नवमी के अवसर पर घर में ही रहकर धार्मिक अनुष्ठान सम्पन्न करें

उत्तर प्रदेश कोर रोड नेटवर्क डेवलेपमेंट प्रोजेक्ट के अंर्तगत उत्तर प्रदेश हाईवे पेट्रोल परियोजना के क्रियान्वयन हेतु 13 करोड़ 28 लाख रूपये की धनराशि स्वीकृत

Leave a Comment