फीडे महिला कैंडिडैट- एना की वापसी ,कोनेरु हारी अब टाईब्रेक से होगा निर्णय

खेल समाचार

मोंटी कार्लो, मोनोको ( निकलेश जैन) फीडे महिला कैंडिडैट टूर्नामेंट के पूल ए में भारत की शीर्ष खिलाड़ी ग्रांड मास्टर कोनेरु हम्पी उक्रेन की एना मुजयचूक के खिलाफ क्वाटर फाइनल के चौंथे मुक़ाबले मे एक रोमांचक मुक़ाबला हार गयी और इसके साथ ही दोनों के बीच चार क्लासिकल मुकाबलों के बाद स्कोर 2-2 हो गया है ।

ऐसे में अब विजेता का फैसला टाईब्रेक के माध्यम से होगा और जीतने वाली खिलाड़ी सेमी फाइनल में चीन की ग्रांड मास्टर लेई टिंगजे से मुक़ाबला खेलेगी जिन्होने उक्रेन की ग्रांड मास्टर मारिया मुजयचुक के खिलाफ लगातार तीसरी बाजी ड्रॉ खेली और 2.5-1.5 क्वाटर फाइनल जीतकर सेमी फाइनल में अपनी जगह बना ली ।

काले मोहरो से खेल रही हम्पी के सामने मुक़ाबले को कम से कम ड्रॉ रखने की चुनौती थी और उन्होने एक बार फिर पेट्रोफ डिफेंस का चुनाव किया जिस पर एना नें शुरुआत से ही हम्पी के राजा की ओर आक्रामक रुख अख़्तियार कर लिया ,हालांकि खेल की 40 वीं चाल में हम्पी के पास हाथी की अच्छी चाल से मैच को बचाने का एक मौका था पर यहाँ उनसे चूक हो गयी और एना नें 58 चालों में बजाई जीत ली ।

अब टाईब्रेक में दोनों के बीच पहले दो रैपिड परिणाम ना आने पर दो ब्लिट्ज़ और फिर भी परिणाम ना आने पर अरमागोडेन के माध्यम से विजेता का फैसला किया जाएगा।

Related posts

वेस्टइंडीज से हारने के बाद बल्लेबाजों पर बरसे कोच बांगड़

श्री लंका के खिलाफ भारत की निगाह सेमीफाइनल पर

पीएम मोंदी ने भारतीय महिला टीम की सराहना की, कहा अपने खेल से 125 करोड़ लोगों का दिल जीता