सुनील छेत्री की अगुवाई में इस साल बेहतर प्रदर्शन करना चाहेगी एफसी गोवा

Image default
खेल समाचार

नए मुख्य कोच और नए विदेशी खिलाड़ियों की मौजूदगी से मजबूत हुई एफसी गोवा की टीम रविवार को यहां बेंगलुरू एफसी के खिलाफ अपना इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) अभियान शुरू करेगी. नए लुक वाली एफसी गोवा इस बार पिछले प्रदर्शन से बेहतर करना चाहेगी, जिसने एक भी बार आईएसएल ट्राफी अपने नाम नहीं की है जबकि वह 2018 और 2015 में उप विजेता रही थी. लेकिन इस बार कोच जुआन फेरांडो की टीम के लिए चीजें आसान नहीं होंगी. फेरांडो चाहते हैं कि क्लब आक्रामक फुटबॉल खेलना जारी रखे जो वे अपने पूर्व कोच सर्गियो लोबेरा के मार्गदर्शन में खेलते थे. फेरांडो ने कहा कि हम आक्रामक फुटबॉल खेलना जारी रखेंगे.

क्लब का यही दर्शन है और मेरे पद में यही चीज मुझे आकर्षित लगी क्योंकि मैं इसी तरह की फुटबॉल में भरोसा करता हूं. वहीं दूसरी ओर बेंगलुरू की टीम एक बार आईएसएल का खिताब अपने नाम कर चुकी है और वह भी जीत के साथ शुरूआत करना चाहेंगी, जिसमें उसके स्टार स्ट्राइकर सुनील छेत्री अहम भूमिका अदा करेंगे. बेंगलुरू टीम काफी बेहतरीन इकाई है और वह गोवा की टीम के लिये कड़ी प्रतिद्वंद्वी साबित होगी. छेत्री अकेले दम पर मैच का रूख बदल सकते हैं और मजबूत टीम के साथ बेंगलुरू एफसी को हराना किसी भी टीम के लिये टेढ़ी खीर होगी. टीम में अनुभवी गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू भी शामिल हैं जो छेत्री जितने ही महत्वपूर्ण है.

Related posts

चोट के कारण महज 26 साल की उम्र मचान ने कहा क्रिकेट को अलविदा

IPL: आज अपने किले में खेलेगी कोलकाता, लेकिन लौट आया है हैदराबाद का तुरुप का इक्का

केन्द्र और राज्य कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत की सहायता को 1 करोड़ स्वयंसेवकों को जुटाने के लिए मिलकर काम करेंगे: किरेन रिजिजू