इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 351 रनों का लक्ष्य रखा

Image default
खेल समाचार

पुणे: पुणे में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पहले वनडे मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 351 रनों का लक्ष्य रखा है. इंग्लैंड ने अपनी पारी में 50 ओवर में 7 विकेट पर 350 रन बनाए. क्रिस वोक्स 9 और डेविड विली 10 रन बनाकर नॉटआउट रहे. टीम इंडिया की तरफ से हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह ने दो विकेट झटके. इसके अलावा रवींद्र जडेजा और उमेश यादव को एक-एक विकेट मिला. जबकि एक विकेट जसप्रीत बुमराह ने एलेक्स हेल्स 9 को रनआउट करके दिलाया है. इस मुकाबले में विराट कोहली ने टॉस जीता और इंग्लैंड को पहले बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतारा.

इंग्लैंड की बल्लेबाजी
पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही. 39 के स्कोर पर इंग्लैंड का पहला विकेट गिरा. सलामी बल्लेबाज एलेक्स हेल्स को जसप्रीत बुमराह ने शानदार थ्रो से रनआउट कर पवेलियन भेजा. हेल्स 9 के निजी स्कोर पर आउट हुए. इसके बाद जेसन रॉय और जो रूट ने इंग्लैंड की पारी को संभाला. दोनों बल्लेबाजों ने शानदार बल्लेबाजी की और स्कोर आगे बढ़ाया रॉय और रूट के बीच दूसरे विकेट के लिए महत्वपू्र्ण 69 रनों की साझेदारी हुई. जेसन रॉय ने 61 गेंदों में 12 चौकों की मदद से 73 रन की आक्रामक पारी खेली. उन्हें 66 रन पर जीवनदान भी मिला था, लेकिन वह उसका फायदा नहीं उठा पाए. रॉय ने 36 गेंदों में 10 चौकों के साथ करियर की छठी फिफ्टी पूरी की थी.

रूट और मॉर्गन की बल्लेबाजी
जेसन रॉय के आउट होने के बाद कप्तान इयोन मॉर्गन और जो रूट ने इंग्लैंड के स्कोर को रूकने नहीं दिया दोनों बल्लेबाजों ने गेंद को बाउंड्री पार कराने में कोई कसर नहीं छोड़ी. दोनों ने ताबड़तोड़ 49 रन जोड़े और अपनी टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया. हालांकि कप्तान मॉर्गन 28 रन बनाकर आउट हुए. उन्हें हार्दिक पांड्या ने आउट किया. इसके बाद रूट और बटलर ने जबरदस्त बल्लेबाजी की और भारतीय गेंदबाजों को खूब खबर ली. दोनों ने चौथे विकेट के लिए 63 रन जोड़े बटलर 31 और रूट 78 के स्कोर पर आउट हुए. इसके अलावा बेन स्टोक्स ने बेहतरीन 40 गेंदों में 62 रनों की पारी खेली और अपनी टीम के स्कोर को 300 के पार पहुंचाने में बड़ा रोल निभाया.

सलामी जोड़ी पर रहेगी नजरें
भारतीय टीम की तरफ से सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में लोकेश राहुल और शिखर धवन पारी का आगाज कर सकते हैं. वहीं मीडिल ऑर्डर में में विराट कोहली, युवराज सिंह, अंजिक्य रहाणे और धोनी के कंधों पर टीम की जिम्मेदारी होगी. गेंदबाजी में भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह के साथ उमेश यादव तेज गेंदबाजी का भार साझा कर सकते हैं. आर अश्विन और रवींद्र जडेजा दोनों का प्लेइंग इलेवन में खेलना तय है.

इस प्रकार हैं दोनों टीमें:

भारत : शिखर धवन, लोकेश राहुल, विराट कोहली (कप्तान), महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), युवराज सिंह, केदार जाधव, हार्दिक पांडेया. रवींद्र जडेजा, जस्प्रीत बुमराह, उमेश यादव.

इंग्लैंड : एलेक्स हेल्स, जेसन रॉय, जो रूट, इयोन मॉर्गन, जोस बटलर (विकेटकीपर), बेन स्टोक्स,मोईन अली, क्रिस वोक्स, आदिल राशिद, डेविड विले, जैक बॉल.

Related posts

प्रधानमंत्री ने फीफा यू-17 विश्‍व कप में भाग लेने वाली भारतीय टीम से मुलाकात की

युवा मामलों एवं खेल मंत्रालय दिल्ली में ‘मलिन बस्ती को गोद लेना’ पहल की शुरूआत करेगा

मलिंगा ने अपनी स्पिन गेंदबाजी से सबको चौंकाया, 3 विकेट झटकते हुए दिलाई अपनी टीम को जीत

13 comments

Leave a Comment