उम्र पर जज्बा भारी: वयोवृद्ध खिलाड़ी रामकिशन ने गुजरात में जीता एक गोल्ड, एक सिल्वर

खेल समाचार

वयोवृद्ध धावक रामकिशन शर्मा ने गुजरात के बड़ोदरा में आयोजित प्रथम नेशनल ओपन मास्टर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में हरियाणा प्रदेश की की तरफ से भागेदारी करते हुए एक हजार मीटर दौड़ में प्रथम रहकर एक गोल्ड मेडल व दूसरी स्पर्धा में सिल्वर पदक जीतकर नया इतिहास रचा है।

उनके बेहतरीन प्रदर्शन पर क्षेत्र के खेल प्रेमियों व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने खुशी प्रकट करते हुए उनको बधाई दी है। गुजरात के वड़ोदरा स्थित मांजलपुर स्पोर्टस काम्पलेक्स में प्रथम नेशनल ओपन मास्टर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में हरियाणा प्रदेश की तरफ से भागेदारी करते हुए बुजुर्ग धावक रामकिशन शर्मा ने भागीदारी करते हुए सौ मीटर रेस मात्र 15 सेकंड में पूरी कर गोल्ड व दूसरी स्पर्धा में पैर में चोट होने के बावजूद प्रशंसनीय भागेदारी कर सिल्वर मेडल जीता है। रामकिशन शर्मा पिछले बीस वर्षों से खेल क्षेत्र में सक्रिय हैं और अब तक 133 गोल्ड, 15 सिल्वर, 4 ब्रेंज सहित 140 मेडल जीतकर नया इतिहास बनाया है। लेकिन इसके बावजूद वयोवृद्ध खिलाड़ी को अब तक सरकार एक रुपये की मदद नहीं कर पाई है। उनके गुजरात में जीत दर्ज करने पर ब्राह्मण सभा खाप अध्यक्ष मा. अमरचंद चैहड़, संरक्षक विजय मोटू, महासचिव अत्तर सिंह भांडवा, पूर्व सरपंच सीताराम शर्मा, भाजपा किसान मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व विधायक सुखविद्र मांढी, जजपा जिला अध्यक्ष नरेश द्वारका, इनेलो जिला अध्यक्ष विजय पंचगावा, पूर्व अध्यक्ष बलजीत हंसावास, पंचायत समिति चेयरमैन भल्लेराम बाढड़ा, जिला पार्षद अनिल बाढड़ा, बैंक निदेशक सुधीर चांदवास, व्यापार मंडल अध्यक्ष रामकिशन फौजी, सरपंच सुरेश धनासरी, समाजसेवी मुकेश जेवली, सुनील चेयरमैन, रामौतार बाढड़ा, जजपा मीडिया प्रभारी राजेंद्र हुई, विकास मिश्रा, बजरंग सिटी, प्रेरक संघ अध्यक्ष मा. विनोद मांढी इत्यादि ने उनको बधाई दी है।

Related posts

एशिया कप में श्रीलंका ने भारत को 139 का लक्ष्य दिया

IND v WI: हैट्रिक लेने के बाद कुलदीप यादव ने दिया बड़ा बयान

रोनाल्डो ने रच डाला इतिहास, बने सबसे ज्यादा गोल करने वाले फुटबॉलर