महाराष्ट्र विधानसभा की पहली लड़ाई में एकनाथ शिंदे की शानदार जीत, BJP के राहुल नार्वेकर बने स्पीकर

देश-विदेश

एकनाथ शिंदे गुट ने उद्धव ठाकरे के खिलाफ महाराष्ट्र विधानसभा की पहली लड़ाई अपने नाम कर ली है। भारतीय जनता पार्टी का राहुल नार्वेकर स्पीकर का चुनाव जीतने में सफल रहे। उन्होंने 164 वोट पाकर शानदार जीत हासिल की है।

उनके विरोध में सिर्फ 107 मत पड़े। आपको बता दें कि स्पीकर के चुनाव के दौरान समाजवादी पार्टी के दोनों विधायकों ने वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया।

भारतीय जनता पार्टी और एकनाथ शिंदे गुट के दावों के अनुरूप बीजेपी उम्मीदवार राहुल नार्वेकर को 164 वोट मिले हैं। भगवा खेमा पहले से ही 165 से 170 विधायकों के समर्थन का दावा कर रहा था। इनमें बीजेपी के 106, शिंदे कैंप के 50 और अन्य का समर्थन हासिल था। स्पीकर चुनाव में जीत के लिए सिर्फ 144 विधायकों के समर्थन की आवश्यक्ता थी। आपको बता दें कि महा विकास अघाड़ी ने राजन साल्वी को चुनावी अखाड़े में उतारा था।

आपपको बता दें कि शिंदे को समर्थन देने वाले शिवसेना के बागी विधायक शनिवार रात गोवा से मुंबई लौटे और उन्हें दक्षिण मुंबई के एक लग्जरी होटल में रखा गया। दक्षिण मुंबई में विधान भवन स्थित है, जहां शक्ति परीक्षण होगा। राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कहा कि विधानसभा के उपाध्यक्ष नरहिर जिरवाल के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लंबित होने के बावजूद वह कार्यवाहक अध्यक्ष के रूप में अपना कर्तव्य निभा सकते हैं।

नाना पटोले के इस्तीफे के बाद खाली था पद
कांग्रेस के नाना पटोले के पिछले साल फरवरी में पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष बनने के लिए इस्तीफा देने के बाद से विधानसभा अध्यक्ष का पद खाली पड़ा था।

विधानसभा का नंबर
विधानसभा में शिवसेना के पास 55, राकांपा के पास 53, कांग्रेस के पास 44, भाजपा के पास 106, बहुजन विकास आघाड़ी के पास तीन, समाजवादी पार्टी के पास दो, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के पास दो, प्रहार जनशक्ति पार्टी के पास दो, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के पास एक, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के पास एक, शेतकरी कामगार पार्टी के पास एक, स्वाभिमानी पक्ष के पास एक, राष्ट्रीय समाज पक्ष के पास एक, जनसुराज्य शक्ति पार्टी के पास एक, क्रांतिकारी शेतकारी पार्टी के पास एक और 13 निर्दलीय विधायक हैं।

शिवसेना विधायक रमेश लटके का मई में निधन हो जाने के कारण एक पद रिक्त है। राकांपा के दो नेता अजीत पवार और छगन भुजबल कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, जबकि पार्टी के दो अन्य विधायक अनिल देशमुख और नवाब मलिक वर्तमान में जेल में हैं।

सोर्स: यह हिन्दुस्तान न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ श्रमजीवी जर्नलिस्ट टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Related posts

तिरुपति हवाई अड्डे को “राज्य की वार्षिक उत्कृष्टता पुरस्कार” श्रेणी के अंतर्गत “सर्वश्रेष्ठ पर्यटक अनुकूल हवाई अड्डे” का पुरस्कार मिला

उपराष्ट्रपति तथा राज्यसभा के सभापति ने श्री अनिल माधव दवे के निधन पर शोक व्यक्त किया

महिला सुरक्षा के लिए शुरू होगी 24 घंटे गुड़िया हेल्पलाइन: सीएम जयराम ठाकुर