CSIR-IIP आॅडिटोरियम में पेट्रोलियम पदाथों के संरक्षण हेतु ”सक्षम“ संरक्षण क्षमता महोत्सव को सम्बोधित करते हुएः मंत्री श्री प्रकाश पन्त

Image default
उत्तराखंड

देहरादून: मा0 वित्त मंत्री श्री प्रकाश पन्त जी ने देहरादून के CSIR-IIP आॅडिटोरियम में पेट्रोलियम पदाथों के संरक्षण हेतु एक माह तक चलने वाली कार्यशाला ”सक्षम“ संरक्षण क्षमता महोत्सव का उद्घाटन किया और इस अवसर पर उपस्थित जन समुदाय को पेट्रोलियम पदार्थों के संरक्षण हेतु शपथ दिलाई एवं पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन हेतु गुब्बारे उड़ाये और जागरुकता वाहन को हरी झंडी दिखाई।

देश और दुनिया में पेट्रोलियम पदार्थों को लेकर चिंतनीय माहौल बनता नजर आ रहा है और ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले पचास वर्षों में यदि इसी तरह से पेट्रोलियम पदार्थों को दोहन होता रहा और उनका दुर्पयोग होता रहा तो आने वाला समय संकटपूर्ण होगा। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तराखण्ड आॅयल इंडस्ट्री द्वारा पेट्रोलियम पदार्थों के संरक्षण हेतु जागरुकता कार्यक्रम शुरू किया गया, जिसका शुभारम्भ आज वित्त मंत्री श्री प्रकाश पन्त जी द्वारा आईआईपीसीएसआईआर आॅडिटोरियम, देहरादून में किया। इस अवसर पर मा0 मंत्री जी ने पेट्रोलियम पदार्थों के संरक्षण हेतु लोगों को जागरुक किया, उन्होंने कहा कि समय की मांग है कि हम प्रकृति के द्वारा मनुष्य जगत को प्रदत्त सुविधाओं का संरक्षण व संवर्धन करें। उन्होंने वैज्ञानिकों की उस चिंता से भी उपस्थित समुदाय को चेताया जिसमें कहा गया है कि यदि प्राकृतिक संसाधनों का दोहन यूं ही होता रहा तो दुनिया पर बड़ा संकट आ सकता है। उन्होंने कहा कि चाहे घर में हो या बाहर हर जगह हमें ध्यान रखना होगा कि प्रकृति के संसाधनों का समुचित प्रयोग करें। मा0 मंत्री जी ने कहा कि अपने अधिकारों को याद रखना अच्छा है, लेकिन उसके साथ ही अपने कत्र्तव्यों का पालन करना भी हमें बखूबी याद रखना होगा और उसे व्यवहार में उतारना होगा।

Related posts

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को धनतेरस पर्व की बधाई व शुभकामनाएं दी

डेस्टिनेशन उत्तराखंड के केवल 10 माह में 16 हजार करोड़ का निवेश

14वीं वर्षगांठ पर सीएम हरीश रावत ने थमाया योजनाओं का पुलिंदा: उत्तराखंड

Leave a Comment