श्रीनगर में फिर लगा प्रतिबंध, चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों की कड़ी नजर

Image default
देश-विदेश

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद बढ़े तनाव के मद्देनजर अधिकतर इलाकों में धारा 144 लगी हुई है. हालांकि बकरीद के मद्देनजर रविवार को कर्फ्यू में थोड़ी ढील दी गई लेकिन कुछ घंटों बाद ही पूरे शहर में एक बार फिर से प्रतिबंध लगा दिया गया. उसके बाद पूरे श्रीनगर में एक बार फिर से सड़कों पर सन्नाटा छा गया.

ईद-उल-जुहा से पहले ही श्रीनगर में सुरक्षा के अभूतपूर्व इंतजाम किए गए हैं. शहर के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबल नजर बनाए हुए हैं. सोमवार को जामा मस्जिद में ईद की नमाज अदा की जानी है. जिसके लिए भी कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं. हालांकि सूत्रों के मुताबिक, ऐसा माना जा रहा है कि इस बार शायद घरों और मोहल्लों के अंदर ही ईद की नमाज अदा करने की इजाजत दी जाएगी.

वहीं दूसरी ओर बकरीद से पहले बाजार में रौनक दिखाई दी. रविवार को धारा 144 लगने के सातवें दिन श्रीनगर की सड़कों पर वाहनों की सामान्य आवाजाही नजर आई. काफी संख्या में लोग घरों से निकले. दुकानों पर भी भीड़ देखी गई. बता दें कि जम्मू जिला प्रशासन की ओर से हालात की समीक्षा करने के बाद शनिवार को धारा 144 सीआरपीसी को हटा लिया गया है.

गौरतलब है कि 5 अगस्त को पूरे जम्मू-कश्मीर में धारा 144 लगाई गई थी और स्कूल, कॉलेजों को बंद कर दिया गया है. हालांकि जैसे ही यहां से धारा 144 हटाई गई स्कूल, कॉलेज भी दोबारा से खुल गए. प्रशासन हालात की समीक्षा करने के बाद से लैंडलाइन फोन से प्रतिबंध को जल्द हटा सकता है.

बता दें पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया गया था. इससे पहले ही केंद्र सरकार ने दो अगस्त को जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा को रोक दिया और सभी तीर्थ यात्रियों, पर्यटकों और बाहरी राज्यों के लोगों को वापस जाने को कहा था. उसके बाद राज्य से अनुच्छेद 370 हटा दिया गया. न्यूज़ सोर्स Catch News

Related posts

भारतीय मानक ब्‍यूरो विधेयक, 2015 को प्रस्‍तुत करने को मंजूरी

उपराष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में एक माह का वेतन दान किया

हिमाचल प्रदेश में तीव्र शीत लहर जारी, 0.2 डिग्री पहुंचा पारा