बैडमिंटन: दक्षिण एशियाई खेलों में सिरिल, अश्मिता ने जीते स्वर्ण

Image default
खेल समाचार

पोखरा: भारत के दो युवा खिलाड़ियों अश्मिता चालिहा और सिरिल वर्मा ने 13वें दक्षिण एशियाई खेलों में शानदार प्रदर्शन करते हुए बैडमिंटन की एकल स्पर्धाओं में स्वर्ण पदक अपने नाम किए हैं। अश्मिता ने शुक्रवार को महिला एकल वर्ग में स्वर्ण जीता तो वहीं सिरिल ने पुरुष वर्ग में सोने का तमगा अपने नाम किया। इसी के साथ भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ने इन खेलों में अपना सफर खत्म किया। भारत टीम ने इन खेलों में कुल आठ पदक अपने नाम किए जिनमें से चार स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य पदक हैं।

सिरिल हालांकि पहला गेम हार गए थे लेकिन उन्होंने वापसी करते हुए हमवतन आर्यमन टंडन को 17-21. 23-21, 21-13 से हरा दिया।

महिला एकल वर्ग के फाइनल में भी दोनों खिलाड़ी भारत की ही थीं। यहां अश्मिता ने गायत्री गोपीचंद को सीधे गेमों में 21-18, 25-23 से परास्त किया।

ध्रूव कपिला ने पुरुष युगल और मिश्रित युगल दोनों में सफलता हासिल की। पुरुष युगल में हालांकि उन्हें थोड़ी मेहनत करनी पड़ी। यहां ध्रूव और कृष्णा प्रसाद गारागा की जोड़ी ने श्रीलंका के सचिन प्रेमशान दास और बुवानेका थारिंडू को 21-19,19-21, 21-18 से मात दे स्वर्ण जीता।

मिश्रित युगल में कपिला ने मेघना जक्कामपुडी के साथ जोड़ी बनाई और श्रीलंका की सचिन तथा थिलिन प्रमोदिका की जोड़ी को 21-16, 21-14 से परास्त किया।

Related posts

भारत-ऑस्ट्रेलिया तीसरा टी-20 मैच गीले आउटफील्ड के चलते रद्द

ICC Racking: 34 साल के सबसे निचले स्तर पर आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम

महेंद्र सिंह धौनी स्वतंत्रता दिवस पर लेह में फहराएंगे राष्ट्रीय ध्वज ‘तिरंगा’