अमेरिकी क्रिकेटर ने 5 गेंद में लिए 3 विकेट, दर्द के चलते बिना हैट्रिक के छोड़ना पड़ा मैदान

Image default
खेल समाचार

तेज गेंदबाज अली खान ने अबू धाबी टी10 लीग में अपनी गेंदों से कहर बरपा दिया. दिल्ली बुल्स की ओर से खेलते हुए पुणे डेविल्स की बल्लेबाजी की उन्होंने धज्जियां उड़ा दी. महज पांच गेंदों में अली खान ने तीन विकेट ले लिए. इस दौरान वे हैट्रिक पर थे लेकिन चोट के चलते उन्हें मैच बीच में ही छोड़ना पड़ा. उनकी कहर बरपाती गेंदबाजी के चलते पुणे की टीम 10 ओवर में सात विकेट पर 57 रन ही बना सकी. अली खान ने पांच गेंद के ओवर में केवल एक रन ही दिया. बाद में दिल्ली ने 58 रन के लक्ष्य को दो विकेट खोकर पांचवें ओवर में ही हासिल कर लिया. अली खान आईपीएल का भी हिस्सा हैं. वे कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के साथ हैं. वे अमेरिका के लिए क्रिकेट खेलते हैं.

पहले बैटिंग करते हुए पुणे की टीम को टॉम कोहलर कैडमोर और केनार लुईस ने शुरुआत तो बढ़िया दी. दोनों ने पहली नौ गेंद में ही 21 रन उड़ा दिए. लेकिन फिर फिदेल एडवर्डस ने लुईस को आउट कर दिल्ली को पहली कामयाबी दिलाई. इसके बाद एमाद बट ने दो गेंदों के अंदर चाडविक वाल्टन (1) और कैडमोर (11) को आउट कर दिया. इससे पुणे का स्कोर तीन ओवर में तीन विकेट पर 31 रन हो गया. फिर आए अली खान. उन्होंने तो पुणे के मिडिल ऑर्डर की बखिया उधेड़ दी. उन्होंने ओवर की पहली ही गेंद पर एलेक्स डेविस (3) को आउट किया. फिर दो गेंद बाद पुणे के कप्तान नासिर हुसैन (0) को चलता कर दिया. अगली गेंद पर करण केसी भी बिना खाता खोले अली खान के शिकार हो गए.

दिल्ली पांच ओवर में ही जीती

ऐसे में पुणे का स्कोर छह विकेट पर 34 रन हो गया. वहीं अली खान के पास हैट्रिक का मौका था. लेकिन चोट की वजह से अली खान दर्द में दिखे. उन्हें मैदान छोड़कर जाना पड़ा. टॉम एबेल ने उनका ओवर पूरा किया. पुणे की टीम अली खान के झटकों से उबर नहीं सकी. वह सात विकेट पर 57 रन ही बना सकी. डेवोन थॉमस (15) और मोहम्मद आमिर (4) नाबाद लौटे. दिल्ली की टीम ने 58 रन के लक्ष्य को दो विकेट खोकर पांचवे ओवर में ही हासिल कर लिया. टीम के लिए ओपनर रहमानुल्लाह गुरबाज (26), एविन लुईस (13) और शेरफान रदरफॉर्ड (14) ने उपयोगी पारियां खेलीं. मोहम्मद आमिर और मुनिस अंसारी को एक-एक विकेट मिला.

कौन हैं अली खान

29 साल के अली खान का जन्म पाकिस्तान में हुआ था, जबकि वह अमेरिका के स्थायी निवासी हैं. वह अमेरिका के लिए ही क्रिकेट भी खेलते हैं. अली खान पहले अमेरिकी क्रिकेटर हैं जिसे किसी आईपीएल फ्रेंचाइजी ने अपने साथ जोड़ा है. अली खान को 2020 में पहली बार आईपीएल में मौका मिला. उन्होंने केकेआर में तेज गेंदबाज हैरी गर्नी को रिप्लेस किया. त्रिनबैगो नाइट राइडर्स की तरफ से खेलते हुए कैरेबियन प्रीमियर लीग में इस खिलाड़ी ने 8 मैचों में 8 विकेट लिया था जहां खान का इकॉनमी रेट 7.43 का था.

आईपीएल 2019 के दौरान भी खान को केकेआर में मौका मिलने वाला था जहां उन्होंने साल 2018 में ग्लोबल टी20 कनाडा में शानदार प्रदर्शन किया था. उन्हें वेस्टइंडीज के ऑल राउंडर ड्वेन ब्रावो ने यूएस ओपन टी20 टूर्नामेंट में खोजा था. खान उस दौरान ऑल स्टार्स का हिस्सा थे.

Related posts

प्रीमियर लीग: बर्नले ने टोटेनहम के खिलाफ किया उलटफेर

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट ने मेलानी जोन्स को नया निदेशक नियुक्त किया

वीवो प्रो-कबड्डी लीग ने छठे संस्करण की नीलामी 30 और 31 मई, 422 खिलाड़ियों की लगेगी बोली