दो महीने के बाद पहली बार सक्रिय मामलों की संख्या सात लाख से नीचे

Image default
देश-विदेश सेहत

भारत ने कोविड के खिलाफ अपनी लड़ाई में एक महत्वपूर्ण मील के पत्थर को पार कर लिया है। दो महीने (63 दिनों) के बाद पहली बार देश में सक्रिय मामले की संख्या सात लाख से नीचे दर्ज की गई है। पिछली बार सक्रिय मामलों की संख्या सात लाख (6,97,330) से नीचे 22 अगस्त को दर्ज किया गया था।

आज देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 6,95,509 है। वे कुल मामलों का केवल 8.96 प्रतिशत है।

लगातार कम होने के साथ हर दिन अधिक संख्या में कोविड मरीजों के ठीक होने और कम मृत्यु दर के कारण भारत में स​क्रिय मामलों की संख्या में कमी आने का ट्रेंड लगातार बना हुआ है।

http://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0015BSZ.jpg

भारत में अधिक संख्या में रिकवरी भी हो रही है। कुल रिकवर मामले लगभग 70 लाख (69,48,497) हैं। सक्रिय मामलों और रिकवर मामलों के बीच अंतर भी लगातार बढ़ रहा है और आज यह अंतर 62,52,988 है। रिकवरी के मामले सक्रिय मामलों की तुलना में लगभग 10 गुना अधिक है।

पिछले 24 घंटों में 73,979 रोगी ठीक हुए हैं और डिस्चार्ज किए गए हैं जबकि नए पुष्टि किए गए मामले 54,366 हैं। राष्ट्रीय रिकवरी दर बढ़कर 89.53 प्रतिशत हो गई है।

राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा संवर्धित देशव्यापी चिकित्सा संरचना, केंद्र के मानक उपचार प्रोटोकॉल का कार्यान्वयन और डॉक्टरों, चिकित्सा ​कर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं के कुल समर्पण और प्रतिबद्धता के कारण मृत्यु दर में कमी आने के साथ—साथ रिकवरी की संख्या में लगातार वृद्धि हुई है। आज यह 1.51 प्रतिशत है। ये सक्रिय मामलों में सिलसिलेवार गिरावट के परिणामस्वरूप हुआ है।

24 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में 20,000 से कम सक्रिय मामले हैं।

http://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002V7YZ.jpg

81 प्रतिशत नई रिवकरी 10 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में सामने आई है।

महाराष्ट्र में एक दिन में 16,000 से अधिक रिकवरी हुई हैं जिसके बाद कर्नाटक में 13,000 से अधिक रिकवरी हुई हैं।

http://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003ZGRO.jpg

पिछले 24 घंटों में  54,366 नए मामले सामने आए हैं।

इनमें से 78 प्रतिशत मामले 10 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में हैं। 7,000 से अधिक नए के साथ महाराष्ट्र और केरल में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं जिसके बाद कर्नाटक में 5,000 से अधिक मामले सामने आए हैं।

http://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004KUP1.jpg

पिछले 24 घंटे में 690 लोगों के मौत होने की खबर है। इनमें से करीब 81 प्रतिशत मौत 10 राज्यों / केन्द्र शासित प्रदेशों में हुई है।

महाराष्ट्र में एक दिन में सबसे अधिक मौत (198 मौतें) हुई हैं।

http://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image005D5K2.jpg

Related posts

सुबह ऑफिस जाने से पहले स्कूल जाकर बच्चों को कोचिंग देती हैं ये IPS ऑफिसर

राम विलास पासवान ने बीआईएस मोबाइल ऐप्स ‘बीआईएस-केयर’ एवं ई-बीआईएस के मानकीकरण, अनुरूपता आकलन तथा प्रशिक्षण पोर्टल को लॉन्च किया

समस्त अभियानों की जननी है स्वच्छ भारत मिशनः श्री वैंकेया नायडू