33 C
Lucknow

दूरसंचार विभाग द्वारा एक ऐतिहासिक पहल – भारत सार्वजनिक निजी भागीदारी के माध्यम से 5जी/ओआरएएन परीक्षण इकोसिस्टम प्रगति की ओर

देश-विदेश

दूरसंचार विभाग की एक तकनीकी शाखा – दूरसंचार इंजीनियरिंग केंद्र (टीईसी) ने आज 5जी, नेटवर्किंग, आईओटी, क्लाउड और ऐप्स सहित प्रौद्योगिकी के विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाली एक भारतीय उत्पाद इंजीनियरिंग और विनिर्माण कंपनी – मैसर्स वीवीडीएन टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

टीईसी के डीडीजी (एमटी) श्री ए.एस.वर्मा और मैसर्स वीवीडीएन के सीईओ श्री पुनीत अग्रवाल ने दूरसंचार विभाग के डिजिटल संचार आयोग (डीसीसी) के सदस्य (सेवाएं) श्री निजामुल हक की उपस्थिति में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर हेतु आयोजित कार्यक्रम में टीईसी के सीनियर डीडीजी श्री आर.आर. मित्तर, डीडीजी (एमटीसीटीई) श्री प्रशांत कुमार, डीडीजी (आरसी) श्री अखिलेश कुमार गुप्ता और दोनों संगठनों के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर होने से ओपन आरएएन के क्षेत्र में काम करने वाले पंजीकृत स्टार्टअप, इनोवेटर और एमएसएमई को सुविधा मिलेगी। वे समझौता ज्ञापन से जुड़े साझेदारों के बीच परस्पर सहमति से किए गए निर्णय द्वारा तय किए गए रियायती शुल्क पर निर्धारित ओपन आरएएन मानदंडों के अनुसार रेडियो कॉनफॉरमेंस, प्रोटोकॉल और इंटरफेस परीक्षण वाले विक्रेताओं के साथ अपने उत्पाद का गुरुग्राम में मैसर्स वीवीडीएन की मौजूदा लैब में परीक्षण करा सकेंगे, ताकि ओपन आरएएन घटकों (आरयू/डीयू/सीयू) के बीच अंतर-संचालन के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में काम किया जा सके। परीक्षण के लिए पेश किया गया उत्पाद टीईसी द्वारा प्रमाणित किया जाएगा।

इस तरह के परीक्षण प्रमाणन से घरेलू डिजाइन और विनिर्माण में अनुसंधान नवाचार में तेजी आएगी। इसका उद्देश्य भारत को 5जी / ओआरएएन में उभरते डिजाइन लीडर के रूप में स्थापित करना है। यह परीक्षण प्रमाणन इको-सिस्टम भारत को एशिया का डिजाइन परीक्षण और प्रमाणन का केंद्र बना देगा।

टीईसी और मैसर्स वीवीडीएन दोनों समझौता ज्ञापन के कार्यकाल के दौरान ओपन आरएएन परीक्षण के क्षेत्र में सहयोग करने और संयुक्त रूप से काम करने के लिए सहमत हुए हैं, जो हस्ताक्षर करने की तारीख से 5 साल के लिए प्रभावी है। यह टीईसी द्वारा हस्ताक्षरित अपनी तरह का पहला समझौता ज्ञापन है। एक निजी फर्म के साथ साझेदारी में मौजूदा ओपन आरएएन परीक्षण इकोसिस्टम का लाभ उठाने की दिशा में एक कदम है। टीईसी दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बाजार पहुंच प्रणाली बनाने के लिए बड़े पैमाने पर सुधार कर रहा है।

इस अवसर पर सदस्य (सेवा) श्री निजामुल हक ने टीईसी के प्रयासों की सराहना की और आश्वासन दिया कि दूरसंचार विभाग समझौता ज्ञापन के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए सभी आवश्यक सहायता प्रदान करेगा।

Related posts

अस्पताल से भी काम कर रहे हैं ब्रिटिश PM, सांसदों ने कहा- चर्चिल बनना बंद कीजिए

डॉ. जितेंद्र सिंह ने जीएफआर-2017, ई-प्रोक्योरमेंट एंड जीईएम पर पहले क्षमता निर्माण कार्यक्रम का उद्घाटन किया

राष्‍ट्रपति का केन्‍या के स्‍वाधीनता दिवस की पूर्व संध्‍या पर संदेश