14 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में प्रति लाख लोगों पर सबसे अधिक जांच और भारत के औसत की तुलना में पॉजिटिविटी के कम मामले सामने आए

Image default
देश-विदेश सेहत

भारत की टेस्टिंग क्षमता रोजाना 12 लाख से अधिक हो गई है। पूरे देश में कुल 6.6 करोड़ से अधिक टेस्ट किए गए हैं। अधिक जांच से पॉजिटिव मामलों की शुरूआती पहचान होती है। संकेतों से पता चला है, आखिरकार पॉजिटिविटी दर गिर जाएगी।

भारत में बहुत अधिक जांच हो रही है। इसके कारण 14 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में प्रति दस लाख लोगों पर जांच (टीएमपी) सबसे अधिक किया गया है जिससे कोविड से मुकाबले में अच्छे नतीजे सामने आए हैं और राष्ट्रीय औसत की तुलना में पॉजिटिविटी की दर कम रही है।
आज कुल राष्ट्रीय पॉजिटिविटी रेट 8.52 प्रतिशत रहा और प्रति दस लाख लोगों पर 48,028 लोगों की जांच की गई है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001G31T.jpg

देश में पिछले 24 घंटों में कुल 83,347 नए मामले सामने आए हैं।

पुष्टि किए गए नए मामलों में से 74 प्रतिशत मामले 10 राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों से सामने आए हैं।

महाराष्ट्र में अकेले 18,000 से अधिक मामले सामने आए। इसके बाद आंध्र प्रदेश और कर्नाटक क्रमशः 7,000 और 6,000 से अधिक मामले सामने आए।

                      WhatsApp Image 2020-09-23 at 12.12.56 PM.jpeg

पिछले 24 घंटों में 1,085 लोगों की मौत हुई हैं।

कोविड के कारण पिछले 24 घंटों में हुई मौतों में से 83 प्रतिशत 10 राज्यों / केन्द्र शासित प्रदेशों से सामने आए हैं।

महाराष्ट्र में 392 लोगों की मौत हुई है जबकि कर्नाटक और उत्तर प्रदेश में क्रमश: 83 और 77 लोगों की मौतें हुई हैं।

               WhatsApp Image 2020-09-23 at 12.13.00 PM.jpeg

Related posts

जे. पी. नड्डा ने स्वच्छता और साफ-सफाई के उच्च मानकों को बनाए रखने के लिए जन स्वास्थ्य सुविधाओं को कायाकल्प पुरस्कार प्रदान किए

गांधी जयंती पर राष्‍ट्रपति का संदेश

“समुद्र सेतु” – भारतीय नौसेना, ईरान इस्लामी गणतंत्र से नागरिकों को स्वदेश लायेगी