मलेशिया: स्कूल में आग लगने से 25 की मौत, अधिकतर बच्चे

देश-विदेश

कुआलालम्पुर: मलेशिया के एक धार्मिक स्कूल में आग लगने से आज 25 लोगों की मौत हो गई, जिनमें से अधिकतर छात्र हैं। अधिकारियों ने कहा कि यह देश में अभी तक हुई आगजनी की सबसे भीषण घटनाओं में से एक है।

राजधानी कुआलालम्पुर के मध्य में स्थित ‘ताहफिज दारूल कुरान इत्तेफाकियाह’ नामक दो मंजिला इमारत में आग भोर से पहले लगी। दमकल कर्मी तुरंत ही मौके पर पहुंचे और करीब एक घंटे में आग पर काबू पा लिया गया लेकिन इससे पहले वहां भयानक तबाही मच चुकी थी।अग्निशमन एवं बचाव विभाग के निदेशक खीरुदीन द्रहमान ने मीडिया से कहा, ”इतने सारे लोगों के मारे जाने की बात समझ नहीं आती।” उन्होंने कहा,”मुझे लगता है कि पिछले 20 वर्षों में देश में हुई आगजनी की यह सबसे भीषण घटना है।”उन्होंने हादसे में 23 छात्रों और दो वार्डन के मारे जाने की पुष्टि की है।

आशंका है कि इन लोगों की मौत धुएं के कारण दम घुटने या आग में फंस जाने के कारण हुई। द्रहमान ने कहा, ”हम आग लगने के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।” सरकार के संघीय प्रदेशों के उप मंत्री लोगा बाला मोहन ने कहा,”हमारी संवेदनाएं पीड़ितों के परिवार के साथ है। बीते कुछ सालों में हुई आगजनी की यह सबसे भीषण घटनाओं में से एक है।” उन्होंने कहा,”हम चाहते हैं कि अधिकारी तत्काल आग लगने के कारणों का पता लगाएं ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचा जा सके।”

Related posts

कॉरपोरेट सामाजिक दायित्‍व योजना के तहत दिव्‍यांगजनों की मदद के लिए इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने एक करोड़ रूपये दिए

जम्मू-कश्मीर क्षेत्र में नई बिजली परियोजनाएं युवाओं को रोजगार प्रदान करेंगी: प्रधानमंत्री

आईआरसीटीसी, आईआरएफसी और इरकॉन जैसे रेलवे के पीएसयू शेयर बाजार में सूचिबद्ध होंगे।

Leave a Comment