भारत के राष्‍ट्रपति ने नागालैंड के होर्नबिल महोत्‍सव और राज्‍य स्‍थापना दिवस आयोजन का उद्घाटन किया

देश-विदेश

नई दिल्लीः राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने किसामा में नागालैंड के होर्नबिल महोत्‍सव और राज्य स्थापना दिवस आयोजन का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर राष्‍ट्रपति महोदय ने कहा कि होर्नबिल महोत्‍सव संगीत, नृत्‍य और भोजन के रूप में सालों से अपनाई गई नगा की समृद्ध संस्‍कृति और परंपराओं का प्रदर्शन है। किसामा में होर्नबिल महोत्‍सव और अंतर्राष्‍ट्रीय संगीत समारोह नगा समाज की विभिन्‍नता का द्योतक है।

राष्‍ट्रपति ने कहा कि पिछली अर्द्ध शताब्‍दी नागालैंड की उपलब्‍धियों और कठिनाइयों का समय रही हैं। नागालैंड के लोगों ने कई तरह की परीक्षाएं दी। परंतु उनकी महत्‍वपूर्ण योग्‍यताएं और अच्‍छाइयां स्‍पष्‍ट रूप से प्रकट हुई। आज नागालैंड इतिहास रचने के कगार पर है। काफी सालों के दंगों के बाद अब कुछ उम्मीद हुई है। राज्य की जनता, सिविल सामाजिक संस्थाओं और सभी भागीदारों की सहायता से अब स्थाई शांति अवसर आया है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सभी के लिए न्याय-पूर्ण और सभी की अपेक्षाओं को पूरा करने वाला अंतिम समझौता शीघ्र ही कर लिया जाएगा।

राष्ट्रपति ने कहा कि नागालैंड के युवा देश का गौरव हैं। वे स्वतंत्रता के बाद 1948 में लंदन में आयोजित ओलंपिक खेलों में राष्ट्रीय फुटबाल टीम का नेतृत्व करने वाले प्रथम कैप्टन डॉ. टी ए ओ के सच्चे अनुयायी हैं। नागालैंड के युवा शेष भारत के लिए आदर्श हैं। इस राज्य की उल्लेखनीय बेटी टेम्सटुला इंसोंग ने वाराणसी में गंगा नदी के घाटों की सफाई का महत्वपूर्ण कार्य कर देश का दिल जीत लिया है। दूसरी नागा लड़की चिइवेलोउ थेले दिल्ली पुलिस के अपने अधिकारी बैच में सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षु कमांडो चुनी गई है। सशस्त्र सेनाओं के सर्वोच्च कमांडर के रूप में राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें नागा सैनिकों और अधिकारियों के ऊपर अत्यधिक गर्व है। उनका स्थान देश के सर्वश्रेष्ठ सैनिकों में आता है।

राष्ट्रपति ने कहा कि नागालैंड अभी और बहुत कुछ प्रदान कर सकता है। राज्य की ताकत उसकी जैविक फसल, फूल और फलों के उत्पादन में है। नागालैंड में दुर्लभ औषधीय पौधे और जड़ी बूटियां हैं जो रोजगार पैदा करने और अर्थव्यस्था को आगे बढाने में मदद कर सकती हैं। उन्होंन स्थानीय रूप से किंग चिल्ली कही जाने वाली नागा जोलोकिया (सबसे तेज मिर्च) का जिक्र किया जो विश्व में सबसे अधिक तीखी मिर्च है। उन्होंने कहा कि विश्व के सबसे तीखे बिकने वाले सॉस में शामिल करने के लिए इसे बोतलबंद बनाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि नागालैंड में आकर्षक पर्यटन केन्द्र बनने की भी क्षमता है। जो विरासत और संस्कृति का एक अद्वितीय मिश्रण और शानदार प्राकृतिक सुंदर दृश्य प्रस्तुत करता है।

राष्ट्रपति ने कहा कि हमारा देश बड़ी तेजी से प्रगति कर रहा है और यह दुनिया की तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। हम एक विविध राष्ट्र हैं। हमारी भाषाई, जातीय, धार्मिक और भौगोलिक विविधता भारत को विशेष बनाती है – और यह हमारी सबसे बड़ी ताकत है। अब भारतीय होने का यह रोमांचकारी समय है और यह नागावासी होने का भी एक रोमांचक समय है। नागालैंड और पूर्वोत्तर भारत की कथा के केन्द्र हैं। नागालैंड के विकास के बिना, भारत का विकास अधूरा होगा।

Related posts

श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मुम्बई हवाई अड्डे से 300 हज यात्रियों के पहले जत्थे को रवाना किया

सरकार ने अपनी मौजूदा एमएसपी योजनाओं के अनुसार किसानों से 2020-21 खरीफ फसलों की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर जारी रखी

प्रधानमंत्री ने मध्यप्रदेश में ‘स्वामित्व’ योजना के लाभार्थियों के साथ संवाद किया

8 comments

Leave a Comment