बजट अब ग्राम्य एवं कृषि विकास की ओर – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » कृषि संबंधित » बजट अब ग्राम्य एवं कृषि विकास की ओर

बजट अब ग्राम्य एवं कृषि विकास की ओर

बारहवी पंचवार्षिय योजना मे कृषि क्षेत्र की विकास दर 5.1 प्रतिशत प्राप्त करने का लक्ष्य है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये 2014–15 में खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य 594 लाख मीट्रिक टन एवं तिहलहन उत्पादन का लाक्ष्य 12 लाख मीट्रिक टन रखा गया है।

किसानों को लिए 61 लाख कुन्टल बीज वितरण का लाक्ष्य है, जिसमें खरीद के अन्तर्गत 10 लाख कुन्टल एवं रवी के अन्तर्गत 51 लाख कुन्टल है।

नेशनल फूड सिक्योरिटी मिशन याेजना के लिए लगभग 178 करोड़ रूपये की व्यावस्था। उत्तर प्रदेश साेडिक भूमि सुधार परियोजना तृतीय हेतु 200 करोड़ रूपये बजट की योजना।

कृषि विपणन यार्ड के निर्माण एवं विकास के लिये 88 करोड़ रूपये तथा सहकारी समितियो के माध्यम से अतिरक्ति भण्डारण क्षमता के विकास हेतु 70 करोड़ रूपये की बजट व्यावस्था का प्रस्ताव।

प्रमाणित बीजो के उपयोग काे बढ़ावा देने हेतु अनुदान के लिए 81 करोड़ रूपये ‚ शंकर बीजों के लिये 35 करोड़ रूपये तथा शंकर मक्का बीज प्रोत्साहन योजना के लिये 25 करोड़ रूपये की सब्सिडी की योजना व्यावस्था प्रस्तावित।

कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान को बढ़ावा दिये जाने के उदृेश्य से प्रदेश के कृषि विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के सुदृढीकरण हेतु 227 करोड़ रूपये की बजट व्यावस्था प्रस्तावित।

गन्ना विकास एवं चीनी उद्याेग

चीनी मिल क्षेत्रों में विपणन सुविधाओं के विकास हेतु अंतरर ग्रामीण सड़को के निर्माण के लिये लगभग 37 कराेड़ रूपये की बजट व्यावस्था प्रस्तावित है तथा पूर्ण निर्मित संपर्क मार्गो के सदृढीकरण के लिये 17 करोड़ रूपये की बजट व्यावस्था प्रस्तावित।

ग्रामीण क्षेत्रों का विकास

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के कार्यो के लिय 2593 करोड़ रूपये की व्यावस्था प्रस्तावित‚ योजना के द्वितीय चरण के अन्तर्गत प्रदेश के 3000 किलाेमीटर मार्गों का उच्चीकरण का लक्ष्य।

लखनऊ से आगरा तक 6 लेन के लगभग 300 किमी० लम्बे एक्सप्रेस वे का निर्माण कराने की योजना पर कार्यवाही गतिमान। योजना हेतु 3280 करोड़ रूपये की व्यावस्था प्रस्तावित।

लोहिया ग्रामीण आवास योजना के अन्तर्गत 1500 करोड रूपये की व्यावस्था।

डॉ० राम मनोहर लोहिया याेजना के अन्तर्गत चयनित ग्रामों की अन्य जुडी बसावटों में संमर्क मार्गों के निर्माण एवं पुर्ननिर्माण हेतु 800 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

इन्दिरा आवास योजना हेतु 1800 करोड़ रूपये की योजना की व्यावस्था।

सी०सी० रोड एवं के०सी० ‌ड्रेन तथा इंटर लॉकिग टाइल्स हेतु 487 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

श्री रामशरण दास ग्राम सड़क योजना में संमर्क मार्गो हेतु 50 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

ग्रामीण के जल हेतु 1598 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

ग्राम्य विकास

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामणी रोजगार गारण्टी योजना के अन्तर्गत वर्ष 2014–15 में लगभग 41 लाख परिवारों को 2018 लाख मानव दिवस का रोजगार उपलब्ध कराये जाने का लक्ष्य।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत वर्ष 2014–15 में 500 या उससे अधिक आबादी की सभा जुड सकने योग्य बसावटों और सोनभद्र‚ चन्दौली‚ मिर्जापुर में 250 से अधिक आबादी की सभी बसावटों को पक्की सडकों से जोडे जाने का लक्ष्य।

पंचायती राज

तेरहवी वित्त आयोग की संस्तुतियों के अनुसार जिला पंचायतो को अनुदान के लिए 666 करोड़ रूपये की बजट व्यावस्था। इसके आलावा ब्लाक पंचायतों के लिये 333 करोड़ रूपये तथा ग्राम पंचायतो को अनुदान हेतु 2332 करोड़ रूपये की बजट व्यावस्था प्रस्तावित है।

राज्य वित्त आयोग की संस्तुति के अन्तर्गत प्रदेश की पंचायती राज व्यावस्थाओं के लिए 4390 करोड़ रूपये की बजट की व्यावस्था।

पिछडा क्षेत्र अनुदान निधि से पोषित कार्यक्रमों के लिये 853 करोड़ रूपये की व्यावस्था प्रस्तावित।

 ग्रामीण क्षेत्रों में अन्त्येष्टि स्थलो के विकास हेतु 100 करोड़ रूपये की नयी योजना प्रस्तावित।

नेशनल क्रॉप इन्श्योरेन्स योजना हेतु 95 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

भूमि सेना योजना के लिये 100 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

रसायनिक उर्वरकों के अग्रिम भण्डारण के लिये 100 करोड़ रूपये की व्यावस्था।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.