पानी की निकासी को लेकर दो पक्षों में हुआ खूनी संघर्ष

उत्तर प्रदेश

प्रतापगढ़: यूपी के प्रतापगढ़ जिले में पानी की निकासी को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हुआ। पूरा मांधाता इलाका गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा। बीहड़ जंगल के गांव में गोली लगने से एक युवक की मौत हो गई जबकि चार की हालत नाजुक है। परसरामपुर गांव में हुये इस विवाद का कारण नाली रही जिसमें ग्राम प्रधान व उनके पड़ोसी के बीच मामला खूनी संघर्ष में बदल गया।

पत्थरबाजी के साथ चली गोलियां

गांव में प्रधानी के चुनाव के बाद से ही ग्राम प्रधान रियाज से राजनैतिक दुश्मनी बढ गयी थी। सुबह पड़ोसी मुनीर से इस बात को लेकर विवाद हुआ कि नाली में पानी भरा है और जल निकासी नहीं हो पा रही है। मामला बढ़ा तो मारपीट की नौबत आ गई। दोनों ओर से पत्थर चलने लगे।

देखते ही देखते असलहे निकल आये और गोलियों की तड़तड़ाहट से इलाका दहल उठा। ग्रामीण बताते हैं कि दर्जनों राउण्ड फायरिंग हुई। गोलीबारी में ग्राम प्रधान रियाज के भतीजे अनवर (20) को गोली लगी तो उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया लेकिन गोलियां चलती रही और प्रधान पक्ष के चार लोगों को गोली लग गयी। गोली लगने से प्रधान के भाई निजाम (45), जीशान (17), साहिल (10) और एक महिला घायल लहूलुहान होकर जमीन पर लुढ़क गई।

गोलीबारी जब बंद हुई तो घायलों को अस्पताल ले जाया गया । हालत नाजुक होने पर चारों घायलों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। घंटो बाद पुलिस पहुंची लेकिन तब तक गांव में मातम और दहशत घर कर चुकी थी। मामले में थानाध्यक्ष एमपी सिंह ने बताया कि फायरिंग दोनों पक्षों में हुई है। जांच की जा रही है। कड़ी कार्रवाई की जायेगी ।

 

Related posts

सात लुटेरे गिरफ्तार

जीआरपी उ0प्र0 का ट्विटर एकाउंट बनाया गया

सीएम ने वृद्धावस्था/किसान पेंशन योजना के अन्तर्गत 60 से 79 वर्ष आयु के वृद्धजन को देय 400 रु0 प्रतिमाह की पेंशन राशि को बढ़ाकर 500 रु0 प्रतिमाह किया

Leave a Comment