किसी भी दशा में तटबंध टूटने न पाए, तटबंधों को बचाने का हर संभव प्रयास किया जाए: मुख्यमंत्री

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जनपद गोरखपुर के दिग्विजयनाथ डिग्री काॅलेज में बाढ़ से राहत एवं बचाव के सम्बन्धी में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि किसी भी दशा में तटबंध टूटने न पाए। तटबंधों को बचाने का हर संभव प्रयास किया जाए। संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त व्यवस्था कर के तटबंध के रिसाव आदि को तत्काल भरा जाए। कहीं भी जन धन की हानि न होने पाये। इस समय बन्धों को बचाना ही मुख्य उद्देश्य है। बन्धों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था की जाए इसके लिए पेट्रोमेक्स की पर्याप्त व्यवस्था की जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बाढ़ पीड़ितों तक राहत सामग्री शीघ्र पहुंचाना प्राथमिकता होनी चाहिए। इस विपत्ति की घड़ी में हम सभी को बाढ़ पीड़ितों के साथ रहकर अधिक से अधिक राहत पहुंचाने का प्रयास करना होगा। राहत कार्यों में कहीं से भी लापरवाही न होने पाए। सभी जनप्रतिनिधिगण भी इसमें सहयोग करें। बाढ़ पीड़ितों के राहत एवं बचाव के लिए धन की कमी नहीं होने दी जाएगी। एन0डी0आर0एफ0 के साथ मिलकर और प्रभावी ढंग से बाढ़ पीड़ितों तक राहत सहायता पहुंचाई जाए।

मुख्यमंत्री ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों एवं अन्य आवश्यक स्थानों पर क्लोरीन की गोलियां, सांप काटने की दवा आदि उपलब्ध करायी जाएं। साथ ही, मोबाइल एम्बुलेन्स की भी समुचित व्यवस्था बनायी रखी जाए। उन्होंने लो0नि0वि0 को निर्देश दिया कि सड़कों की स्थिति को ठीक करने के लिए अभी से तैयारी कर ली जाये और पानी घटते ही सड़कों की मरम्मत कार्य आरम्भ कर दिया जाए।

बैठक के दौरान योगी जी ने नगर आयुक्त और डी0पी0आर0ओ0 को निर्देश दिया कि शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में साफ सफाई की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। गंदगी पाए जाने पर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने मेडिकल काॅलेज, जिला अस्पताल एवं अन्य चिकित्सालयों में टीम लगाकर सफाई कराने का निर्देश दिए। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को विद्युत व्यवस्था को दुरुस्त करने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी विभागों के अधिकारी आपस में बेहतर समन्वय बनाकर कार्य करें। उन्होंने पशुओं हेतु चारे की पर्याप्त व्यवस्था की करने के निर्देश देने के साथ ही, अफवाहों पर रोक लगाने के भी का निर्देश दिए। उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि राहत सामग्री की पूरी व्यवस्था रखी जाए।

इस अवसर पर सांसद श्री कमलेश पासवान, विधायक पिपराइच, कैम्पियरगंज, सहजनवा, चैरी-चैरा, खजनी, बासगांव सहित पुलिस प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थेे।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री जी ने जनपद के विभिन्न व्यापारी संगठनों एवं पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक करके बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए आगे आने की अपील करते हुए कहा कि हर बाढ़ प्रभावित व्यक्तियों को राहत पहुंचाने के लिए सभी लोग मदद करें। उन्होंने कहा सहायता करने वाले व्यापारी संगठन अपनी राहत सामग्री प्रातः 8 बजे तक गोरखपुर क्लब में उपलब्ध करा दें, जिससे जिला प्रशासन उसे शीघ्रातिशीघ्र बाढ़ पीड़ितों तक पहुंचा सके। उन्होंने इसके लिए अधिकारियों को हेलीकाप्टरों की संख्या बढ़ाने के भी निर्देश दिए।

Related posts

मुख्यमंत्री से बिल एण्ड मेलिण्डा गेट्स फाउण्डेशन की सह अध्यक्ष एवं ट्रस्टी सुश्री मेलिण्डा गेट्स ने भेंट की

मंदिर परिसर में हुआ कला प्रतियोगिता का आयोजन, 200 बच्चों ने लिया भाग

सरोजनीनगर का विकास सबसे ज्यादा: सांसद धर्मेन्द्र यादव

Leave a Comment