औषधीय और सुगंधित पौधों के बारे में राष्‍ट्रीय नीति के मसौदे पर आज समीक्षा बैठक

Image default
कृषि संबंधित देश-विदेश

नई दिल्लीः आयुष मंत्रालय ‘‘औषधीय और सुगंधित पौधों के बारे में राष्‍ट्रीय नीति के मसौदे’’ पर नई दिल्‍ली के पूसा परिसर में आज एक समीक्षा बैठक आयोजित करेगा। आयुष राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री श्रीपाद येसो नाइक बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित करेंगे। प्रस्‍तावित मसौदा नीति के दस्‍तावेज में सुधार और उसे अंतिम रूप देने के लिए राष्‍ट्रीय औषधीय वनस्‍पति बोर्ड औषधीय और सुगंधित पौधों के साझेदार संघों के साथ संयुक्‍त रूप से एक दिवसीय बैठक आयोजित कर रहा है।

इस अवसर पर आयुष मंत्रालय में सचिव श्री वैद्य राजेश कोटेचा; राष्‍ट्रीय औषधीय वनस्‍पति बोर्ड की सीईओ सुश्री शोमिता बिस्वास; पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय में आईजीएफ श्री पंकज अस्‍थाना; कृषि और कृषक कल्‍याण मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव सुश्री अलका भार्गव; इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स और सूचना प्रौद्योगिक मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव श्री राजीव कुमार भी मौजूद रहेंगे। इसके बाद विभिन्‍न विषयों पर 35 से अधिक विशेषज्ञ 8 सत्रों में विचार-विमर्श करेंगे।

देश भर से आए विशेषज्ञों के 8 सत्रों में वन और संरक्षण, बुनियादी ढांचा, मा‍र्केटिंग और व्‍यापार, खेती, निरतंर फसल कटाई के बाद प्रबंधन, गुणवत्ता और प्रमाण-पत्र, अनुसंधान और विकास, नियंत्रण और कानूनी ढांचा, नेटवर्किंग और आईटी, वित्त और सूचना, सूचना और संचार तथा क्षमता निर्माण जैसे औषधीय वनस्‍पतियों के महत्‍वपूर्ण क्षेत्रों को शामिल किया जाएगा।

उद्घाटन सत्र के दौरान एनएमपीबी भारतीय गुणवत्ता परिषदों (क्‍यूसीआई) के जरिए एनएमपीबी द्वारा डिजाइन किए गए ‘‘औषधीय वनस्‍पति उत्‍पादों की स्‍वैच्छिक प्रमाणीकरण (वीसीएसएमपीपी)’’ योजना की शुरुआत करेगी।

इस बैठक में राष्‍ट्रीय औषधीय वनस्‍पतियों के बारे में अंतिम मसौदा नीति बनाये जाने की उम्‍मीद है जिसकी समीक्षा आयुष मंत्रालय करेगा।

Related posts

4 साल में टैक्‍स भरने वालों की संख्‍या 80% बढ़ी: CBDT

मधुबनी में गिरे रहस्यमय पत्थर को संग्रहालय में रखा जाएगा

वेटिंग टिकट पर ट्रेन में सफर करना जुर्म, जानिए क्या है सजा?

Leave a Comment