Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » प्रदेश के 07 लाख से अधिक किसानों से अब तक 40 लाख मीट्रिक टन हुई गेहूँ खरीद

प्रदेश के 07 लाख से अधिक किसानों से अब तक 40 लाख मीट्रिक टन हुई गेहूँ खरीद

लखनऊ: मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत प्रदेश में गेहूँ क्रय हेतु निर्धारित लक्ष्य 50 लाख मी0टन के विरूद्ध 40.00 लाख मी0टन से अधिक गेहूँ 07 लाख से अधिक कृषकों से अब तक खरीदा गया है।

यह जानकारी खाद्य आयुक्त श्री आलोक कुमार ने देते हुए बताया कि क्रय केन्द्रों पर बिचैलिये सक्रिय होने, कृषकों को समय से भुगतान प्राप्त न होने आदि की शिकायतें प्राप्त होने पर जिलाधिकारी के माध्यम से गेहूँ क्रय का सत्यापन कराया गया व जिला खाद्य विपणन अधिकारी, सहायक निबन्धक, सहकारी समितियाँ व भा0खा0नि0 के प्रबन्धक की कमेटी गठित कर पंजीकृत समितियों द्वारा की गयी गेहूँ क्रय की जाँच करायी गयी। जाँच में मल्टी स्टेट को-आॅपरेटिव सोसाइटी यथा- नैकाॅफ व एडको के कई क्रय केन्द्रों पर 72 घण्टे के अन्दर भुगतान न करने, 24 घण्टे के अन्दर गेहूँ क्रय की आॅनलाइन फीडिंग न करने की शिकायतों की पुष्टि हुई, जिसके दृष्टिगत नैकाॅफ व एडको के गेहूँ क्रय केन्द्रों पर दिनांक 26.05.2018 के पश्चात गेहूँ क्रय बन्द कराने के निर्देश दिये गये हैं तथा कृषकों के लम्बित भुगतान को तत्काल कराने हेतु कहा गया है, अन्यथा की स्थिति में दोषी के विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज कराने की चेतावनी दी गयी है। जनपद महाराजगंज, फतेहपुर, मैनपुरी, जालौन व आजमगढ़ में पंजीकृत समितियों द्वारा एक कांटें पर एक दिन में 300 कुं0 से अधिक गेहूँ क्रय करने की शिकायतें की पुष्टि होेने पर इन जनपदों के जिला खाद्य विपणन अधिकारियों का स्पष्टीकरण मांगा गया है।

उन्होंने बताया कि कतिपय केन्द्रों पर एक दिन में 1000 कुं0 की खरीद पायी गयी, जो कि प्रथम दृष्टया संदिग्ध प्रतीत होती है, अस्तु सम्भागीय खाद्य नियंत्रकों व क्रय एजेन्सी पी0सी0एफ0, पी0सी0यू0 व यू0पी0 एग्रो के प्रबन्ध निदेशकों को निर्देश दिये गये कि वह इस संदिग्ध खरीद का सत्यापन करायें एवं यदि बिचैलियों के माध्यम से खरीद पायी जाती है तो प्रथम सूचना रिपोर्ट भी अंकित करायें। जनपद महाराजगंज में केन्द्र प्रभारी व राइस मिलर के द्वारा मिलीभगत कर गेहूँ क्रय करने हेतु मे0 जय माता दी फूड्स, नोतनवा महाराजगंज एवं चैधरी टेªडिंग कम्पनी, धनखरी महाराजगंज के विरूद्ध तथा केन्द्र प्रभारी/सचिव जारा, महुआ, खेराटी, बेलहिया, कमासिन, सुचितपुर भगौना तथा जिला प्रबन्धक, पी0सी0एफ0 श्री जे0बी0 सिंह के विरूद्ध 02 प्रथम सूचना रिपोर्ट अंकित करायी गयी। उक्त अनियमितता बरतने हेतु प्रबन्ध निदेशक, पी0सी0एफ0 को दोषी उक्त 06 सचिव व जिला प्रबन्धक, महाराजगंज श्री जे0बी0 सिंह को निलम्बित करने हेतु तथा निदेशक मण्डी परिषद को मण्डी सचिव, नौतनवा श्री विपुल कुमार के विरूद्ध कार्यवाही हेतु लिखा गया है तथा श्री कमल कुमार सिंह, क्षेत्रीय विपणन अधिकारी, नौतनवा को महाराजगंज से हटाते हुये इनके विरूद्ध विभागीय कार्यवाही योजित की गयी। इसी प्रकार जनपद चन्दौली में नैफेड के केन्द्र पर बिचैलियों के माध्यम से खरीद पाये जाने पर जिला प्रबन्धक, नैफेड श्री जवाहर लाल पाण्डेय के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट अंकित करायी गयी।

खाद्य आयुक्त ने बताया कि जनपद मुरादाबाद में उ0प्र0 खाद्य एवं आवश्यक वस्तु निगम के क्रय केन्द्र कांठ व डिलारी पर बिचैलियों के माध्यम से गेहूँ क्रय की पुष्टि होने पर क्रय केन्द्र प्रभारी कांठ व डिलारी, उ0प्र0 खाद्य एवं आवश्यक वस्तु निगम, जिला प्रबन्धक, मुरादाबाद, उ0प्र0 खाद्य एवं आवश्यक वस्तु निगम, विपिन बंसल व अजय बंसल व 05 अन्य बिचैलियों के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी गयी। इसके अतिरिक्त पीलीभीत में मै0 भगवान राइस मिल कलीनगर, पीलीभीत में गेहूँ क्रय के सरकारी बोरे पाये जाने पर तथा जनपद शाहजहांपुर में 02 पंजीकृत समितियों में गेहूँ का स्टाक कम पाये जाने पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराने की कार्यवाही प्रक्रियागत है। प्रदेश में बिचैलियों के माध्यम से गेहूँ क्रय करने व क्रय केन्द्र पर अवैध वसूली करने आदि की शिकायतों पर अब तक 48 से अधिक प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीकृत करायी जा चुकी है। उक्त अनियमितताओं के निराकरण हेतु जिलाधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वह स्थापित केन्द्र से भिन्न स्थान पर व रात्रि में गेहूँ की खरीद न होने दें, जिस क्रम में कृषक का गेहूँ तौला गया है, उसी क्रम से बैंक से भुगतान सुनिश्चित करायें तथा केन्द्र पर अधिक गेहूँ आवक की पुष्टि करने के उपरान्त ही केन्द्र पर एक से अधिक कांटें की अनुमति प्रदान करें।

About admin