Home » मनोरंजन » हमें उत्पीड़न के मामलों को गंभीरता से लेना चाहिए: केके मेनन

हमें उत्पीड़न के मामलों को गंभीरता से लेना चाहिए: केके मेनन

अभिनेता केके मेनन का कहना है कि यौन उत्पीड़न के मामलों से गंभीरता से निपटना चाहिए। वेब सीरीज ‘द ग्रेट इंडियन डिस्फंक्शन फैमिली’ की तैयारी कर रहे अभिनेता ने एक विशेष शो के दौरान यह बात कही। भारत में ‘मीटू’ मूवमेंट की शुरुआत तनुश्री द्वारा दो सप्ताह पहले अभिनेता नाना पाटेकर पर 10 साल पुराने आरोपों को दोहराने के बाद हुई, जिसके बाद से फिल्म व टेलीविजन उद्योग के विकास बहल, गायक कैलाश खेर और अभिनेता रजत कपूर व आलोक नाथ पर भी अलग-अलग यौन उत्पीड़न के आरोप लग रहे हैं।

इस अभियान पर टिप्पणी करते हुए मेनन ने कहा, “मुझे लगता है कि हमें उत्पीड़न के मामलों को गंभीरता से देखना चाहिए। मुझे मामलों की जानकारी नहीं है। मैं न तो न्यायाधीश हूं और न ही न्यायपालिका लेकिन यह कहूंगा कि अगर समाज में किसी प्रकार का उत्पीड़न हो रहा है तो हमें उसे अपने तर्कसंगत अंत तक ले जाना होगा।”

अपने शो ‘द ग्रेट इंडियन डिस्फंक्शनल फैमिली’ के बारे में मेनन ने कहा, “वेब सीरीज का हिस्सा बनना बहुत अच्छा रहा। मनोरंजन का व्यापक प्रसार हो रहा है और मुझे खुशी है कि मैं इस परिवर्तन का हिस्सा बना हूं। यात्रा अद्भुत रही है और मैं एपिसोड प्रसारित होने को लेकर उत्सुक हूं।” -आईएएनएस

About admin