Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » अन्य राज्यों की सीमा से सटे प्रदेश के जनपदों में सघन चेकिंग की जाए: मुख्य सचिव डाॅ0 अनूप चन्द्र पाण्डेय

अन्य राज्यों की सीमा से सटे प्रदेश के जनपदों में सघन चेकिंग की जाए: मुख्य सचिव डाॅ0 अनूप चन्द्र पाण्डेय

लखनऊमुख्य सचिव डाॅ0 अनूप चन्द्र पाण्डेय ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों/पुलिस अधीक्षकों को अवैध शराब के कारोबार से जुड़े लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए आज रात से ही प्रदेशव्यापी अभियान प्रारम्भ किए जाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि अवैध शराब के धंधे में लिप्त लोगों को चिन्हित करते हुए उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने अधिकारियों को सचेत किया कि इस सम्बन्ध में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

मुख्य सचिव आज यहां अपने कार्यालय में पुलिस महानिदेशक श्री ओ0पी0 सिंह के साथ एक संयुक्त वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जनपदों के लिए वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। ज्ञातव्य है कि जनपद कुशीनगर और सहारनपुर में अवैध शराब से हुई लोगों की मृत्यु की घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अवैध शराब के विरुद्ध 15 दिनों का संयुक्त अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्य सचिव ने कहा कि अवैध शराब से लोगों की मृत्यु की दशा में इस कारोबार में शामिल लोगों की संलिप्तता पाए जाने पर उनके खिलाफ घटना की एफ0आई0आर0 में आबकारी अधिनियम की धारा ‘60क’ का उल्लेख अवश्य किया जाए, ताकि राज्य सरकार न्यायालय से दोषियों को मृत्युदण्ड दिला सके। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि आबकारी अधिनियम में धारा ‘60क’ के माध्यम से दोषियों के खिलाफ मृत्युदण्ड की सजा के प्राविधान का व्यापक प्रचार-प्रसार भी कराया जाए।

मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारियों, एस0एस0पी0 एवं एस0पी0 को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने-अपने जनपदों में प्रशासन, पुलिस एवं आबकारी की संयुक्त टीम बनाएं। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी अपने अधीनस्थ अपर जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक अपने अधीन तैनात अपर पुलिस अधीक्षकों तथा आबकारी विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीमें तत्काल गठित करते हुए आज रात से ही छापामारी अभियान शुरू कर दें। समस्त मण्डलायुक्त अपने-अपने मण्डल में इस अभियान का प्रभावी अनुश्रवण करें। मण्डल स्तर पर तैनात उप आबकारी आयुक्त अपने क्षेत्र के समस्त जनपदों का सघन भ्रमण करें।

समस्त जनपदों से अभियान की दैनिक रिपोर्ट प्रमुख सचिव आबकारी को उपलब्ध कराई जाए तथा इसकी एक-एक प्रति मुख्य सचिव तथा पुलिस महानिदेशक को भी प्रेषित की जाए। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि यदि किसी जनपद में आबकारी विभाग के अधिकारियों की ड्यूटी किसी अन्य कार्य में लगाई गई हो, तो अभियान के दृष्टिगत इन अधिकारियों को उक्त ड्यूटी से तत्काल मुक्त किया जाए।

संयुक्त अभियान के दौरान राजमार्गाें पर स्थित संदिग्ध ढाबों, जहां अल्कोहल टैंकर प्रायः रुकते हैं, की सघन एवं आकस्मिक जांच कराई जाए। अन्य राज्यों की सीमा से सटे प्रदेश के जनपदों में सघन चेकिंग की जाए। उन्होंने अवैध मदिरा के बनाने तथा वितरण कार्य में लगे माफियाओं की सूची अद्यतन करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने अवैध मदिरा की बिक्री के संदिग्ध स्थानों की सूची भी अद्यतन करते हुए छापेमारी करने के निर्देश दिए हैं।

सभी आबकारी दुकानों का निरीक्षण चेक लिस्ट के अनुसार करने के निर्देश देते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि इसकी भी जांच की जाए कि इन दुकानों से अवैध मदिरा की बिक्री तो नहीं की जा रही है। उन्होंने मिथाइल अल्कोहल, डिनेचर्ड स्प्रिट के लाइसेंसधारी विक्रेताओं का भी सघन निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पेंट, थिनर, वाॅर्निश की दुकानों से थिनर का नमूना लेकर उनकी भी जांच कराई जाए, ताकि यह पता लगाया जा सके कि इनमें मिथाइल अल्कोहल मौजूद है या नहीं। उन्होंने अवैध अड्डों से बिकने वाली शराब के जहरीले होने के सम्बन्ध में व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने मण्डलायुक्तों को, आबकारी विभाग के मण्डल स्तर पर तैनात प्रवर्तन एवं एस0एस0एफ0 अधिकारी जो उप आबकारी आयुक्त के अधीन होते हैं, प्रवर्तन कार्य हेतु उपयोग करने के भी निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने जनपदों में तैनात आबकारी विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों तथा पुलिस थानाध्यक्षों तथा क्षेत्राधिकारियों को सचेत किया कि यदि उनके क्षेत्रों में इस प्रकार की घटना घटित हुई तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसी घटना होने पर सम्बन्धित जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक की जिम्मेदारी तय करते हुए कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस महानिदेशक श्री ओ0पी0 सिंह ने अधिकारियों को अवैध शराब कारोबार में लिप्त तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई के निर्देश देते हुए कहा कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं और यह सुनिश्चित किया जाए कि इनकी पुनरावृत्ति भविष्य में न हो। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि अभिसूचना तंत्र को सक्रिय करते हुए अवैध शराब की गतिविधियों पर प्रभावी अंकुश लगाएं।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग में मौजूद प्रमुख सचिव आबकारी श्रीमती कल्पना अवस्थी ने कहा कि आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए प्रवर्तन कार्य को प्रभावी ढंग से सम्पादित किया जाए।

ज्ञातव्य है कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशों के क्रम में आबकारी विभाग द्वारा जनपद कुशीनगर में तैनात जिला आबकारी अधिकारी श्री योगेन्द्र नाथ रामू सिंह यादव,  आबकारी निरीक्षक श्री हृदय नारायण पाण्डेय, प्र0 आबकारी सिपाही श्री प्रहलाद सिंह, प्र0 आबकारी सिपाही श्री राजेश कुमार तिवारी, आबकारी सिपाही श्री ब्रम्हानन्द श्रीवास्तव तथा आबकारी सिपाही श्री रवीन्द्र कुमार को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।

About admin