Breaking News
Home » अध्यात्म » घर के मुख्य दरवाजे पर इनकी नहीं गणेश की होनी चाहिए मूर्ति, जानिए क्या है उचित दिशा

घर के मुख्य दरवाजे पर इनकी नहीं गणेश की होनी चाहिए मूर्ति, जानिए क्या है उचित दिशा

वास्तु के अनुसार किसी भी घर का मेन गेट बहुत खास महत्व रखता है। दरअसल इसी रास्ते से सकारात्मक और नकारात्मक दोनो तरह की ऊर्जा का प्रवेश होता है। घर में नकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश से व्यक्ति को मानसिक और आर्थिक परेशानियां उठानी पड़ती है। वहीं सकारात्मक ऊर्जा आने से घर पर शांति रहती है।

वास्तु शास्त्र में नकारात्मक ऊर्जा को रोकने के लिए कई टिप्स बताए गए हैं। आइए जानते हैं दरवाजे से जुड़े कुछ उपाय जिसे अपनाने से घर पर हमेशा सुख- समृद्धि और शांति आती है।

घर पर सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए सिंदूरी रंग के गणेशजी को रखना बहुत शुभ माना जाता है। घर के मुख्य दरवाजे पर गणपति की ऐसी मूर्ति होने से हर तरह की मनोकामना पूरी होती है।

  • घर के मुख्य द्वार पर गणेशजी की फोटो लगी हो तो दरवाजे के दूसरी ओर ठीक उसी स्थान पर गणेशजी की प्रतिमा को इस तरह से लगाएं कि दोनों प्रतिमा की पीठ मिली हुई हो।
  • घर में गणेश जी मूर्ति या फोटो बैठे हुए अवस्था में होनी चाहिए। इससे घर में सुख और समृद्धि आती है।
  • मुख्य दरवाजे पर स्वस्तिक, ऊँ, श्रीगणेश जैसे शुभ चिह्न लगाना चाहिए।
  • घर के मुख्य दरवाजे पर कचरा और गंदगी बिल्कुल नहीं होना चाहिए। साफ-सुथरी जगह पर हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है।
  • मुख्य दरवाजे पर तुलसी का पौधा जरूर रखना चाहिए। तुलसी के पौधे को बहुत शुभ माना जाता है।
  • मेन डोर पर विंड चाइम लगाना से घर पर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश हमेशा बना रहता है।
  • घर के मुख्य दरवाजे पर आम के पत्तों का तोरण द्वार होने से सकारात्मक ऊर्जा आती है।

About admin