Home » देश-विदेश » पर्यटन मंत्री ने 5 से 25 अक्‍टूबर, 2017 तक मनाए जाने वाले राष्‍ट्र व्‍यापी ‘पर्यटन पर्व’ की जानकारी मीडिया को दी
Tourism Minister Briefs Media Persons on ‘Paryatan Parv’ to be Oprganized Nationwide from 5th to 25th October, 2017

पर्यटन मंत्री ने 5 से 25 अक्‍टूबर, 2017 तक मनाए जाने वाले राष्‍ट्र व्‍यापी ‘पर्यटन पर्व’ की जानकारी मीडिया को दी

नई दिल्ली: पर्यटन राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री अल्फ़ॉन्स कन्ननथनम ने कहा है कि पर्यटन मंत्रालय अन्‍य केंद्रीय मंत्रालयों, राज्‍य सरकारों तथा हितधारकों के सहयोग से पूरे देश में 5 से 25 अक्‍टूबर 2017 तक पर्यटन पर्व आयोजित कर रहा है। उन्‍होंने आज यहां संवाददाताओं से  बातचीत में कहा कि इस कार्यक्रम का आयोजन पर्यटन के लाभों पर बल देने के उद्देश्‍य से किया जा रहा है। देश की सांस्‍कृतिक विविधता को दिखाते हुए सभी के लिए पर्यटन सिद्धांत को लागू करने का प्रयास है। संवाददाता सम्‍मेलन में पर्यटन सचिव श्रीमती रश्मि वर्मा और वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्थित थे।

पर्यटन मंत्री ने बताया कि पर्यटन पर्व के तीन प्रमुख घटक होंगे :-

  • देखो अपना देश :- इसका उद्देश्‍य भारतीयों को अपने देश में भ्रमण के लिए प्रोत्‍साहित करना है। पर्व के दौरान विभिन्‍न स्‍थलों के वीडियो, फोटोग्राफ तथा ब्‍लॉक प्रतियोगिताएं होंगी,, सोशल मीडिया पर सैलानी की नजर से भारत की कहानियों को बताया जाएगा। पर्यटन संबंधी क्‍वीज, लेख, वाद-विवाद तथा पेंटिंग प्रतियोगिताओं का आयोजन होगा तथा जम्‍मू एवं कश्‍मीर तथा पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में पर्यटन को प्रोत्‍साहित करने के लिए टेलीविजन अभियान चलाया जाएगा।
  • सभी के लिए पर्यटन :- देश के सभी राज्‍यों में पर्यटन पर्व मनाया जाएगा। पर्यटन पर्व स्‍थलों की गतिविधियों में आयोजन स्‍थल को रोशन करना, सांस्‍कृतिक नृत्‍य-संगीत कार्यक्रम, नाटक, कथावाचन, पर्यटन प्रदर्शनी और देश की संस्‍कृति व्‍यंजन, हस्‍तकला, हथकरघा और गाइडेड हैरिटेज वर्क शामिल हैं। यह जन आयोजन होगा जिसमें लोगों की व्‍यापक भागीदारी होगी।
  • पर्यटन और शासन संचालन :- विभिन्‍न थीमों पर हितधारकों के साथ सक्रिय संवाद सत्र और कार्यशालाएं :
  • पर्यटन क्षेत्र में कौशल विकास
  • पर्यटन में नवाचार
  • टैक्‍सी परिचालन के लिए सेवा प्रदाता के रूप में भूतपूर्व सैनिकों को जोड़ना।
  • स्‍थापित गंतव्‍यों के निकट के इलाके में ग्रामीण पर्यटन को विकसित करना
  • समुदाय को संवेदी बनाने पर कार्यशाला

पर्यटन मंत्री ने घोषणा की कि पर्यटन पर्व का उद्घाटन 5 अक्‍टूबर, 2017 को हूंमायू के मकबरे पर होगा। विद्यार्थियों के लिए चित्रकारी प्रदर्शनी के साथ सबरे 8 बजे से शाम 4 बजे तक इस स्‍मारक पर हैरिटेज वाक का आयोजन है। कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन उसी स्‍थान पर शाम 5 बजे होगा और सांस्‍कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत विद्या शाह द्वारा मीरा भजन और स‍इदा हमीद, जाकिया जहीर और रेने सिंह द्वारा दास्‍ताने अमीर खुसरो का प्रस्‍तुतिकरण होगा।

पर्यटन पर्व की समाप्ति नई दिल्‍ली में 23 से 25 अक्‍टूबर 2017 को तीन दिनों के समारोह के साथ होगा। इसमें देश की सांस्‍कृतिक विविधता, संस्‍कृतिक कार्यक्रम, दस्‍तकारी बाजार, फूड कोर्ट, लोक और सांस्‍कृतिक नृत्‍य व संस्‍कृत, दस्‍तकारी व हैंडलूम तथा देश के सभी क्षेत्रों तथा राज्‍यों के व्‍यंजन परोसे जाएंगे। समारोह में शामिल होने वाली सहयोगी राज्‍य सरकारें सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों तथा पर्यटन से संबंधित कार्यक्रमों, कार्यशालाओं और सेमिनारों का आयोजन चिन्हित स्‍थलों पर करेंगी।

पर्यटन मंत्री ने बताया कि पर्यटन पर्व मनाने के लिए केंद्रीय मंत्रालय भी सक्रिय रूप से आगे आए हैं और निम्‍नलिखित आयोजनों का हिस्‍सा होंगे।

  • संस्‍कृतिक मंत्रालय चिन्हित स्‍थलों पर नृत्‍य, संगीत, नाटक, सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करेगा। विभिन्‍न स्‍थानों पर कलाकारों के शिविरों का प्रबंध करेगा और पर्व के दौरान एएसआई के स्‍मारकों की रोशनी करेगा।
  • सूचना और प्रसारण मंत्रालय पर्यटन और पर्यटन पर्व के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिए समर्थन देगा तथा दूरदर्शन लोगों को शामिल करने के लिए प्रतियोगिताएं आयोजित करेगा।
  • कपड़ा मंत्रालय विभिन्‍न स्‍थलों पर हथकरघा और दस्‍तकारी प्रदर्शनियों का आयोजन करेगा।
  • ग्रामीण विकास मंत्रालय, अपने राष्ट्रीय रुरबन मिशनों के माध्यम से, अपने पहचान किए गए ग्रामीण कलस्टरों में ग्रामीण पर्यटन पर ध्यान देने के लिए स्थानीय गतिविधियों की व्यवस्था करेगा।
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय प्रतिष्ठित पर्यटक स्थलों के लिए छात्रों की भ्रमण यात्राओं की व्यवस्था करने के साथ-साथ केन्द्रीय विद्यालयों में प्रश्नोत्तरी, चित्रकला और निबंध प्रतियोगिताएं भी आयोजित करेगा।
  • कौशल विकास मंत्रालय पर्यटन क्षेत्र में कौशल विकास पर कार्यशालाओं और सेवा प्रदाताओं के संवेदीकरण में भागीदारी करेगा।
  • पूर्वोत्तर क्षेत्र मंत्रालय पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन कार्यक्रमों, प्रदर्शनियों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों और संवेदीकरण कार्यक्रमों में तालमेल करेगा।
  • आयुष मंत्रालय योग प्रदर्शनों / सत्रों और कार्यशालाओं की व्यवस्था करेगा।
  • युवा मामले और खेल मंत्रालय पर्व के दौरान युवा शिविर, साहसिक गतिविधियों और आदिवासी युवा विनिमय कार्यक्रमों का आयोजन करेगा। फीफा अंडर-17 विश्व कप में भाग लेने वाली टीमों को मैच आयोजित होने वाले शहरों के पर्यटन स्थलों पर ले जाया जाएगा।
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय माइगोव पर पर्यटन संबंधित प्रश्नोत्तरी/ फोटोग्राफी/ वीडियो प्रतियोगिताओं का आयोजन करके सार्वजनिक पहुंच के कार्यक्रमों में भागीदारी करेगा।
  • पर्यावरण और वन मंत्रालय हितधारकों के लिए जिम्मेदार पर्यटन पर संवेदीकरण कार्यक्रमों का आयोजन करेगा।
  • नागर विमानन मंत्रालय द्वारा पर्व के दौरान प्रमुख हवाईअड्डों को सुंदर रूप दिया जाएगा और हवाई अड्डों पर कर्मचारियों के लिए संवेदीकरण कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा।
  • इसी तरह, रेल मंत्रालय सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनों की साज-सज्जा की व्यवस्था करेगा और रेलवे कर्मचारियों के लिए संवेदीकरण कार्यक्रमों का भी आयोजन करेगा।
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, पहचान किए गए पर्यटक सर्किटों में सड़कों के किनारे सुविधाओं की शुरूआत करके इस कार्यक्रम में सहयोग करेगा।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय, चुनिंदा पेट्रोल पंपों पर सड़कों के किनारे पर्यटन सुविधाएं जुटाएगा।
  • वित्त मंत्रालय (राजस्व) हवाई अड्डों और बंदरगाहों पर सीमा शुल्क अधिकारियों के लिए संवेदीकरण कार्यक्रम आयोजित करेगा।
  • गृह मंत्रालय इमिग्रेशन और सीआईएसएफ अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए संवेदीकरण कार्यक्रमों का आयोजन करेगा।
  • वाणिज्य मंत्रालय का औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग भारतीय और वैश्विक निवेशकों की भागीदारी के साथ-साथ पर्यटन निवेशक गोलमेज सम्मेलन का भी आयोजन करेगा।

मंत्रालय ने बताया कि भारतीय दूतावासों के माध्यम से विदेश मंत्रालय विदेशी बाजारों में लोगों को भारत की यात्रा के लिए प्रोत्साहित करने हेतु पहुंच कार्यक्रम आयोजित करेगा, जिनमें ऐसे पीआईओ पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाएगा जिन्होंने कभी भी भारत की यात्रा नहीं की है।

पर्यटन मंत्रालय द्वारा शुरू की गई “एडॉप्ट ए हेरिटेज” परियोजना को इस अवधि के दौरान प्रमुख पर्यटन स्थलों पर लागू किया जाएगा। पर्यटकों के लिए पहचान किए गए सर्किटों में महत्वपूर्ण स्थलों पर सड़क किनारे सुविधाओं की भी शुरूआत की जाएगी।

इसके अलावा, बड़े आयोजनों में सांस्कृतिक संघों और संगठनों, यात्रा और आतिथ्य उद्योग, होटल प्रबंधन संस्थानों, भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंधन संस्थानों, सेवा प्रदाताओं, छात्रों, युवाओं और स्थानीय लोगों की सक्रिय भागीदारी की जाएगी।

सामाजिक मीडिया सहित सभी मीडिया में व्यापक मीडिया गतिविधियों और कार्यक्रमों द्वारा पर्यटन पर्व को मदद मिलेगी। दूरदर्शन कार्यक्रम के दौरान सभी विशेष कार्यक्रमों को प्रसारित करेगा जिनमें :

  • प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम – “द वंडर दैट इज इंडिया”
  • स्माइल इंडिया स्माइल कैंपेन – एक स्टिल फोटोग्राफी प्रतियोगिता
  • क्या आप जानते हैं? – भारत के बारे में दिलचस्प तथ्यों का प्रचार करने का एक अभियान।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*